औद्योगिकीकरण पर्यावरण राजनीति

उद्योग मंत्री कवासी लखमा का विधानसभा में एलान ; बस्तर में अदानी को घुसने नहीं देंगे .

रायपुर / 23.02.2019

छत्तीसगढ़ विधान सभा में आज उद्योगमंत्री कवासी लखमा ने कहां की हम उद्योग विरोधी नहीं हैं ,लेकिन गरीब आदिवासियों का नुकसान करके हम किसी को उद्योग नहीं लगाने देंगें. उन्होने अनुदान मानगो पर चर्चा करते हुए स्पष्ट रूप से कहा कि अदानी को किसी  भी कीमत पर खनन नहीं करने देंगे ,और न बैलाडीला में आवंटित आयरन ओर में भी खोदने की अनुमति नहीं देंगे.

उन्होंने यह भी कहा की बस्तर के लोग नहीं चाहते की अदानी कंपनी खनन करे हमारी सरकार लोगों की भावनाओ के अनुसार ही काम करेगी .हम इसके लिए सड़क से लेकर संसद तक लड़ाई लड़ने को तैयार है. केंद्र सरकार ने जो अनुमति दी है वह बस्तर के लोगों को स्वीकार नहीं हैं. हमारी सरकार नागपुर से नहीं लोगों को मंशानुसार काम करेगी.

मालूम हो की बेलाडीला में अदानी को जिस खदान को आवंटित किया गया है वह एनएमडीसी और छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम को आवंटित हुई थी इसी खदान का लोह आयरन का उपयोग नगरनार स्टील प्लांट में किया जाना हैं. इसी खदान को अदानी ने 2018 में बैलाडीला आयरन और मायानिंग प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कंपनी गठित करके प्राप्त कर लिया था,. कोंग्रेस ने विपक्ष में रहते हुए भी इस आवंटन का विरोध किया था. 

कवासी लखमा ने यह भी कहा कि अभी तक  पिछली सरकारों ने बंदूक  के दम पर भूमि अधिग्रहण कराया है अब यह सरकार राहुल गांधी और भूपेश बघेल की है कहीं भी बंदूक के बल पर  जमीन नहीं ली जायेगी.

**

Related posts

2 अप्रेल को भारत बंद का मजदूर यूनियन ने किया समर्थन :, रैली और प्रदर्शन

News Desk

लागत तो दूर, महंगाई की भी भरपाई नहीं करता समर्थन मूल्य : किसान सभा छत्तीसगढ़ .

News Desk

छत्तीसगढ़ में मुख्य मंत्री भूपेश बघेल के लिए महज जीत नहीं ज्यादा सीट की चुनौती : जीवेश चौबे

News Desk