कला साहित्य एवं संस्कृति

इप्टा और प्रलेसं मंगला बिलासपुर : बूढी काकी का मंचन और पंच परमेश्वर का पाठ .

 

 

01.08.2018 /बिलासपुर

इप्टा, मंगला इकाई, बिलासपुर तथा प्रगतिशील लेखक संघ, बिलासपुर द्वारा संयुक्त रूप से मुंशी प्रेमचंद जयंती मनाई गई।
कार्यक्रम को पत्रकार एवम लेखक श्री नथमल शर्मा जी , शिक्षाविद व साहित्यकार श्री शितेन्द्रनाथ चौधुरी व मंगला इप्टा साथी अशोक शिरोडे ने संबोधित किया। मुंशी प्रेमचंद कहानी ” पंच परमेश्वर,” का कु. अंशुल लोहिया द्वारा पाठ किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे श्री नथमल शर्मा जी ने प्रेमचंद जी को उद्धत करते हुए कहा कि आज इस दौर में क्या बिगाड़ के डर से ईमान की बात नही कही जाएगी? क्या चुप रहना समय के साथ अपनी आने वाली अगली पीढ़ी के साथ न्याय करना है। हमें सच कहना होगा , जन सरोकारों को लेकर बोलना होगा, सवेंदनशील समाज के निर्माण में अपनी भूमिका तय होगी।
इस कार्यक्रम में मुंशी प्रेमचंद की कहानी “बूढ़ी काकी” का बच्चों द्वारा तैयार नाटक भी प्रस्तुत किया गया।
कार्यक्रम के वक्ता श्री चौधुरी जी ने कहा कि समाज मे व्याप्त सामाजिक और आर्थिक असमानता , धार्मिक विद्वेष के वर्तमान दौर में प्रेमचंद और उनकी कहानियां पहले से की अपेक्षा आज ज्यादा प्रांसगिक है। श्री नंद कश्यप व डॉ.स्वाति जाजू ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।


कार्यक्रम का संचालन आशीष डिग्वेकर तथा आभार अभय प्रताप सिंह द्वारा व्यक्त किया गया.

Related posts

जब भी बोलता झूठ बोलता .. नहीं चहिये  ..नहीं चहिये ऐसा मोदी नहीं चहिये .. राजकुमार सोनी और साथियों का जन गीत ..

News Desk

फिल्म समीक्षा : बारां माजिद – मजीदी की एक ईरानी फिल्म :. महज़बीं

News Desk

लम्बी कविता ‘देह’ का यह दसवाँ भाग प्रस्तुत कर रहा हूँ । यह भाग आपको और आगे की यात्रा पर ले जाएगा : शरद कोकास

News Desk