अभिव्यक्ति आदिवासी मानव अधिकार राजनीति

पत्रकार लिंगराम कोडपी को सीआरपीएफ के आफिसर द्वारा जान से मारने की धमकी : कार्यवाही की म़ाग ,लिंगराम की सुरक्षा करे सरकार .

 

15.01.2018

हिमांशु कुमार की रिपोर्ट

कल रात लिंगा कोड़ोपी अपने गांव समेली से कुआकोंडा थाना जा रहे थे

जहां लिंगा कोड़ोपी को जमानत की शर्त के मुताबिक हर महीने की 14 तारीख को अपनी सूचना देनी होती है

रास्ते में समेली में सीआरपीएफ कैंप में लिंगा कोडोपी को जवानों ने रोका

और उनसे कहा कि हम तुम्हें कान के नीचे झापड़ मारेंगे और तुम्हें गोली से उड़ा देंगे

लिंगा कोड़ोपी ने सीआरपीएफ कैंप के भीतर जाकर कमांडेंट से जब इस बारे में बात करनी चाही और कहा कि मैं इस बात की सूचना मानवाधिकार आयोग को दूंगा

तो सीआरपीएफ कमांडेंट ने लिंगा कोड़ोपी से कहा कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग हमारा क्या उखाड़ लेगा भोंxx के,

और कहा कि ज्यादा पत्रकारिता दिखाता है इसे भीतर ले चलो

इसे अभी सबक सिखाते हैं

लिंगाराम कोड़ोपी बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर वहां से निकल पाए हैं

हमारी मांग है कि लिंगराम कोडपी को जान से मारने की धमकी देने वाले आफिसर के खिलाफ तत्काल मुकदमा दर्ज किया जाये और लिंगराम की हिफाज़त सुनिश्चित की जाये .
**

Related posts

देश के वर्तमान हालात पर तीन कविताएं

News Desk

Full text: Arundhati Roy, Medha Patkar and others seek independent inquiry in CJI harassment case

News Desk

यह संवेदनहीनता नहीं है तो और क्या हैं ? पहले पिता ने फिर 17 साल के बालक ने की खुदकशी

News Desk