आंदोलन मजदूर

आज आपातकाल से भी बुरे हालात हैं .जन आधारित पावर प्लांट मजदूर यूनियन भिलाई.

जन आधारित पावर प्लांट मजदूर यूनियन के मजदूरों ने सुबह 7.30 बजे से 9 बजे तक 1 जुलाई शहीद दिवस के तैयारी हेतु काम पर जाते श्रमिको को शहादत दिवस पर शामिल होने का आव्हान किये,वही इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपात काल का निदा करते हुए वर्तमान में देश के अंदरअघोषित आपातकाल पर चिंता जाहिर किये जो और भयानक है,संसद के अंदर धार्मिक नारे लगाया गया वह स्वस्थ लोकतंत्र नही है

झारखण्ड में तबरेज को पिट पिट कर मार डाला गया यह भी लोकतंत्र का हत्या है,हम सब गर्व से नारा लगाते थे हिन्दू मुस्लिम सिख्ख ईसाई ,आपस मे सब भाई भाई वह लुप्त हो गया अब तो यह नारा लगाने में डर लगता है कोई भीड़ आकर हत्या कर देगा,हम मजदूर भी तो समाजिक प्राणी है समाज के अहम हिस्सा है और देश,समाज मे जो अराजकता फैलाई जा रही है उसमें हम लोग भी तो मारे जाएंगे,मजदूरो ने इस बात को जोर दिया कि राम रहीम जो बलात्कार के केश में जेल में है सबूत के साथ उन्हें पेरोल में छोड़ने की बात हो रही है,ओर मजदूरों के अधिकार के लिए लड़ने वाली अधिवक्ता,बेगुनाह सुधाभरद्वाज को जेल में रखा गया है ठीक से उनकी सुनवाई भी नही हो रही है.

बिहार के मुजफ्फरपुर में ईलाज के आभाव में मरने वाले बच्चे 150 से अधिक हो गया है मृत बच्चों को श्रद्धांजलि दिया गया। पँर हमारे देश के स्वास्थ व्यवस्था चरमरा गई है मंत्री नेता राजनीति करने में व्यस्त है ,यह भी लोकतंत्र का हत्या है.
1 जुलाई को देश भर से लोग आ रहे है एक साथ मिलकर आवाज बुलंद कर आन्दोलन के लिए नई योजना बनाई जाएगी

जन आधारित पावर प्लांट मजदूर यूनियन

Related posts

ज्यां द्रेज से क्यों डरती है सरकार ःः उत्तम कुमार.

News Desk

2 से 13 अक्टूबर 2018 से बस्तर मध्य भारत में शांति के लिए पदयात्रा . गोदावरी के चट्टी गांव से जगदलपुर .

News Desk

बार अभ्यारण के गांव रामपुर में वनविभाग द्वारा मारपीट ,: राजकुमार को उठाया ,ग्रामीण चौकी पर रिपोर्ट दर्ज करने पहुचे , ग्रामीणों के खिलाफ ही रिपोर्ट दर्ज कर दी .

News Desk