शिक्षा-स्वास्थय हिंसा

अभिभावकों की ललकार , भूखे पेट रहे फिर भी नहीं जागी सरकार

नाराजगी : बच्चों को साथ लेकर नेहरू चौक तक मौन रैली , उमड़ी भीड़

बिलासपुर

नईदुनिया प्रतिनिधि

सेंट जेवियर्स स्कूल में अभिभावकों के साथ हुए दुर्व्यहार व मारपीट की घटना के बाद मंगलवार को अभिभावकों ने बच्चों सहित गांधी चौक से नेहरू चौक तक मौन रैली निकाली नेहरू चौक में आमसभा कर शासन – प्रशासन को ललकारा एक दिनी भूख हड़ताल की फिर भी सरकार नींद से नहीं उठी सर्वस्कूल अभिभावक एवं विद्यार्थी कल्याण संघ के तत्वावधान में विरोध प्रदर्शन किया गया दोपहर 12 बजे बड़ी संख्या में अभिभावक अपने बच्चों के साथ गांधी चौक में एकत्र हुए रैली को विभिन्न संगठनों ने समर्थन दिया ।

एकजुट होकर सभी मौन रैली में शामिल हुए बैनर , पोस्टर लेकर सभी सिटी कोतवाली , गोल बाजार , सिम्स रोड , देवकीनंदन चौक होते हुए नेहरू चौक पहुंची संघ द्वारा यहां आमसभा हुई पदाधिकारियों ने मंच से निजी स्कूलों के रवैये की जमकर आलोचना की संघ के अध्यक्ष मनीष अग्रवाल ने कहा कि स्कूलों में मनमानी फीस वसूली को लेकर प्रशासन कोई कदम नहीं उठा रही है । सेंट जेवियर्स स्कूल की घटना निंदनीय है ।

पीटीएम में अभिभावकों को उत्तरपुस्तिका नहीं दिखाई गई अभद्र व्यवहार किया गया अभिभावकों ने जब इसका विरोध किया तो बाउंसर से डराया गया । कर्मचारी द्वारा एक अभिभावक से मारपीट कर मोबाइल तोड़ा गया महिला स्टाफ को सामने कर जबरन फंसाने का प्रयास किया है । संघ नेरैली के माध्यम से सरकार को चेतावनी दी कि अगर समय रहते समस्या का निदान नहीं किया गया तो भविष्य में स्थिति बिगड़ेगी स्कूल प्रबंधन लगातार धमकी दे रहे हैं । भविष्य में बच्चों पर किसी तरह का दबाव दिया गया या कोई घटना हुई तो कौन जिम्मेदार होगा ।

इस अवसर पर उपाध्यक्ष पवन ताम्रकर , अनिल पाठक , राजू पांडेय , मनीष साहू , सोहेल मिर्जा , मिली गुहा , संजय पांडेय , राकेश देवांगन ,नीलाद्रि गुहा , अभिजीत सरकार , अभिषेक वर्मा , अनिरूद्ध मिश्रा , मनोज सोनी , अशफाक अली , एबीवीपी के आलिंद तिवारी , रौनक केसरी , गिरजा शंकर आदि शामिल थे ।

सभा स्थल पर ऐसा नजारा

बच्चों को स्कूल नहीं भेजा , यूनिफार्म में सभा स्थल पर मौजूद थे ।

पुलिस ने चारों ओर घेर रखा था । पांच सदस्य ज्ञापन देने गए ।

सेंट जेवियर्स के खिलाफ लोगों में
जबरदस्त आक्रोश दिखा ।

शहर के कई प्रमुख व्यापारी और आम जन भी सपोर्ट में आए ।

■संघ ने कहा जल्द बैठक कर रणनीति तय करेंगे ।

पुलिस बल किया तैनात

मौन रैली को लेकर पुलिस को किसी अनहोनी घटना की आशंका थी । संघ के सदस्यों ने यह आरोप लगाया कि सेंट जेवियर्स की ओर से कुछ लोग अभिभावक बनकर रैली में शामिल हो गए थे । जबरन माहौल खराब करने प्रयास था । पुलिस पूरे समय सभी पर नजर रखे हुए थी । यही वजह है कि कहीं कोई अप्रिय घटना नहीं हुई ।

बाइक में युवाओं ने लहराया झंडा

रैली के दौरान अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने परिषद का झंडा लहराकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई । अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय सहित विभिन्न कॉलेजों के स्टूडेंट बाइक लेकर रैली में शामिल हुए उनका कहना था कि सेंट जेवियर्स स्कूल हमेशा से विवादों में रहता है । सरकार का विशेष संरक्षण प्राप्त है ।

कलेक्टर को सौंपा गया ज्ञापन

अभिभावक संघ ने पूरे मामले पर आमसभा के बाद कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा । जिसमें मनमानी रवैये और फीस बढ़ोतरी व सेंट जेवियर्स स्कूल की करतूत को उजागर किया । कलेक्टर से झूठे मामले में फंसाने , कर्मचारी जितेंद्रीय सराफ पर कार्रवाई समेत कई प्रमुख मांग रखी गई है । सदस्यों का कहना है कि इसके पहले कई बार ज्ञापन दे चुके हैं ।

Related posts

लिंचिग , कहानी . असग़र वजाहत

News Desk

उत्तराखंड : गढ़वाल के छात्रों ने बढ़ते गैंगरेप और महिला सुरक्षा के मद्देनज़र निकाला प्रतिरोध मार्च

Anuj Shrivastava

बिलासपुर: लॉकडाउन में छूट का समय फिर से बदल गया है, अब न 7 से 12 है न 7 से 4, जानिए पूरी अपडेट

News Desk