मानव अधिकार

अगर_यह_खबर_सच_है_तो_भारत_सचमुच_हैवानों_के_चंगुल_में_है..

आवेश तिवारी की पोस्ट


यह कोई फ़िल्मी कहानी नही है यह मोदी सरकार जनता की नाक के नीचे कौन से खटकर्म कर रही है उसका एक बड़ा नमूना है। तस्वीर में जो लड़की आपको दिखाई दे रही है वो कोई आम लड़की नही है ये लतीफ़ा बिन मोहम्मद अल मकदूम यूएई की राजकुमारी है।
आपने ‘ हाईवे’ देखी होगी बिलकुल उसी तरह से एक दिन इसी साल मार्च महीने में लातिफ़ा ने राजमहल की ज़ंजीरों को तोड़ा और घर से भाग निकली फिर गोवा पहुँच गयी। लातिफ़ा समुद्री मार्ग से अमेरिका जाना चाहती थी और वहाँ पर राजनीतिक शरण चाहती थी।
इंडियन मीडिया को हमेशा की तरह भनक न लगी लेकिन अमेरिकन मीडिया और मानवाधिकार संगठनों ने लातीफ़ा को लेकर हो हल्ला शुरू कर दिया सवाल पूछे जाने लगे।
फिर क्या था राजा साहब ने मोदी जी से सम्पर्क किया, मोदी जी ने न तो विदेश मंत्रालय को कोई जानकारी दी न ही सार्वजनिक तौर पर चर्चा करी,अजीत दोभाल का साथ लिया कोस्ट गार्ड और नेवी को लगाया गया और लातीफ़ा को खोज निकाल ज़बरन दुबई राजा साहब को सौंप दिया।
यह जो आगस्ता के मिशेल को आप देख रहे हैं न, उसके प्रत्यर्पण के नाम पर यह जो ५६ इंच का सीना ठोंका जा रहा है इसी सौदेबाज़ी का नतीजा है। लातीफ़ा अब कहाँ है किसी को नही पता, उन्हें मार दिया गया या ज़िंदा दफ़न कर दिया गया वो भी नही।हमेशा रक्षक बना रहने वाला भारत मोदी सरकार में मुखबिर बन गया.

**

बादल सरोज की वाल से .

Related posts

अमर शहीद बालक दास की कुर्बानी और महंत भुजबल को याद किया नवलपुर समाधी पर .

News Desk

I Was Suspended Without Being I Was Suspended Without Being Heard’: Chhattisgarh Whistleblower Who Wrote About Police Atrocities

cgbasketwp

लेखक संघठनो ने की निंदा : झूठे आरोपों के तहत बुद्धिजीवियों और दलित-अधिकार कार्यकर्ताओं को निशाना बनाना बंद करो! : जनवादी लेखक संघ  और  मध्यप्रदेश प्रगतिशील  लेखक संघ ,जनवादी लेखक संघ .

News Desk