छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ
द्वारा 18 जुलाई को राजिम और 24 जुलाई को खल्लारी क्षेत्र के विधायकों के घेराव के लिये की किसानों के साथ बोनस बइठका गांव गांव

बोनस, कर्ज मुक्ति सहित अनेक मांगो को लेकर राजिम और खल्लारी क्षेत्र के विधायकों के घेराव के लिये छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ की किसानों के साथ बोनस बइठका गांव गांव में चल रही है ।

विगत एक सप्ताह से राजिम क्षेत्र में किसान महासंघ के तेजराम विद्रोही और मदन साहू के नेतृत्व में अनेक गांव में 18 जुलाई को राजिम विधायक सन्तोष उपाध्याय को घेर कर अपनी बात रखने के लिये गांव गांव मे बोनस बइठका का आयोजन किया जा रहा है ।  किसान महासंघ के संचालक मंडल सदस्य तेजराम विद्रोही, मदन लाल साहू, पवन साहू, जहूरराम, रेखराम, भुनूराम, जीवन, सुखदेव साहू, गेंदलाल देवांगन, मोहन साहू, गजेंद्र साहू, दीनदयाल साहू आदि के नेतृत्व में फिंगेश्वर, बहेरापाल, बिरोड़आ, दतकैया,परसदा जोशी में  बोनस बइठका की गई ।

राजिम की तरह खल्लारी विधानसभा क्षेत्र के विधायक चुन्नीलाल का घेराव 24 जुलाई को किया जायेगा । इस हेतु बागबाहरा क्षेत्र में बोनस बइठका का दौर आज से प्रारम्भ हो गया है । आज ग्राम मुनगासेर और खम्हरिया में किसान महासंघ के  संयोजक मण्डल सदस्य संतोष चन्द्राकर, शकील खान और डॉ गजानन चन्द्राकर के नेतृत्व में बोनस बइठका की गई । जिसमे किसान महासंघ के घटक नया रायपुर किसान कल्याण संघर्ष समिति, छग अभिकर्ता एवम उपभोक्ता संघ, आप किसान मोर्चा, छग किसान समूह और संयुक्त किसान मोर्चा छत्तीसगढ़ के प्रतिनिधि सम्मिलित हुए ।

बइठका में छग किसान मजदूर महासंघ के संयोजक मंडल सदस्य रूपन चन्द्राकर, पारस नाथ साहू, पप्पू कोसरे, द्वारिका साहू, डॉ संकेत ठाकुर, लक्ष्मीनारायण चन्द्राकर शामिल हुए । महासंघ ने किसानों से आव्हान किया कि वादाखिलाफी करने वाली भाजपा सरकार के विधायकों को घेरे और पूछे कि वादों का क्या हुआ ?
बैठक में  किसान भाइयों को बताया गया कि भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव के समय संकल्प किया था कि वह चुनाव जीतने के बाद रु. धान पर 300 बोनस, रु 2100 प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य, धान के एक एक दाना की खरीदी,शून्य प्रतिशत ब्याज पर लोन, मुफ्त बिजली हमें लगातार देंगे । लेकिन इनमें से एक भी वायदा भाजपा ने चुनाव जीतने के बाद पूरा नहीं किया है । वादाखिलाफी की वजह से हमारे किसान साथियों के लिए खेती में लागत लगातार बढ़ती जा रही है । दूसरी तरफ धान की कीमत में वांछित वृद्धि नहीं हो रही है और इस कारण हमारे किसान भाई लगातार कर्ज के बोझ में दबते चले जा रहे हैं । कुछ साथियों ने कर्ज के बोझ से तंग आकर अपने प्राणों की आहुति खेती के नाम पर दे दी। लेकिन भाजपा के मंत्री कर्ज से दबे किसानों का अपमान कर रहे है ।

ग्राम मुनगासेर में छग किसान मजदूर महासंघ के द्वारिका साहू, रूपन चन्द्राकर, पप्पू कोसरे, डॉ संकेत ठाकुर, जागेश्वर चन्द्राकर, संतोष चन्द्राकर, शकील खान और लक्ष्मी नारायण चन्द्राकर ने  किसानों को बोनस और कर्ज़ा मुक्ति के लिये सभी किसानों को तमाम मतभेद भुलाकर एकजुट होकर किसान आंदोलन को सफल करने का आव्हान किया । आज की बोनस बइठका में मुनगासेर, खम्हरिया, चारभाठा, साल डबरी, नरतोरी, जोबा, भुरकोनी, मोखा ग्रामों से किसान उपस्थित थे

  • छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ

CG Basket

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: