Dear friends This comes as an urgent appeal to you seeking support and solidarity for Mr. Prabhakar Gwal. Gwal has been a well known people’s judge from Chhattisgarh. Gwal a Chief Judicial Magistrate who was known for his integrity was dismissed in April 2016. He was last posted as Chief Judicial Magistrate in Sukma where from
Complete Reading

बस्तर के लगातार बदतर हो रहे हालात : पालनार में यौन प्रताड़ना से पीड़ित छात्रा ने किया आत्महत्या का प्रयास तो बुरकापाल गांव खाली करने का फरमान : बस्तर बचाओ सयुक्त संघर्ष समिति का जांच दल पहुचा . 18.09.2017 ** बस्तर में आदिवासियों की स्थिति लगातार बदतर होती जा रही है । एक ओर स्कूली
Complete Reading

13,9, 2017 छत्तीसगढ़ के बलरामपुर के पास एक व्यक्ति जो कपड़े के ऊपर कम्बल ओढ़ता है ग्रामीणों का कम्बल ओढ़ाने , से बीमारियों के इलाज करने की कचर्चा जोरों से है ,कम्बल ओढ़ाने के अलावा ,बच्चों के हाथ पैर खींचने ,मारपीट करने ,महिलाओ के हाथ पैर खीचने धक्का दे कर इलाज ,करने के भी वीडियो
Complete Reading

साथियो, हम सभी वाकिफ हैं कि हज़ारों की संख्या में रोहिंग्या स्त्री, पुरुष और बच्चे, जो म्याँमार की राजनीतिक स्थितियों में जान बचाने के लिए आसपास के देशों में जा रहे हैं. भारत-म्यांमार की सीमा पार कर ऐसे अनेक लोग हमारे देश में आ चुके हैं. उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री की हाल की म्याँमार यात्रा
Complete Reading

* 13.09.2017 नर्मदा घाटी के संघर्ष और लड़ाई को जिस प्रकार देश भर से समर्थन मिला, उसका धन्यवाद देते हुए, इसी प्रकार देश के लोगों और सभी जन संगठनों से घाटी की लड़ाई में साथ खड़े रहने की मेधा पाटकर ने की गुहार। साथ ही एक सवाल देश के सामने रखा कि क्या सिर्फ ईंट
Complete Reading

हां मुझे भी चरित्रहीन औरतें पसंद हैं… बेहद… बेहद.. खूबसूरत होतीं है वो.. बेबाक, बेपर्दा, स्वतंत्र और उन्मुक्त… कि उनका कोई चरित्र नहीं होता। केवल चरित्रहीन औरतें ही खूबसूरत होती हैं। पिंजरे में कैद चिड़िया कितनी भी रंगीन हो, सुन्दर नहीं लगतीं… चाहे कोई कितनी भी कविताएं लिख ले उनपर.. क्या होता है चरित्र…? चरित्र
Complete Reading

12.11.2017 स्वामी विवेकानंद को उनके जिस शिकागो भाषण के लिए सबसे ज्यादा याद किया जाता है, उसका पुनर्पाठ होना चाहिए। मैंने 1977 में उस भाषण को पढ़ा था, जिसे श्रीरामकृष्ण आश्रम, नागपुर ने “शिकागो वक्तृता ” शीर्षक से छापा था। आज मैंने उस भाषण को फिर से पढ़ा। सच कहूँ, मुझे वह झूट का पुलिंदा
Complete Reading

-विनीत तिवारी-सारिका श्रीवास्तव 5 सितम्बर 2017 को बेंगलुरु की पत्रकार एवं सम्पादक सुश्री गौरी लंकेश की सम्प्रदायवादियों द्वारा हत्या कर दी गई। इसके प्रति अपना विरोध और आक्रोश दर्ज कराने 7 सितम्बर 2017 को शाम 5 बजे से इंदौर में रीगल चौराहे, गाँधी प्रतिमा पर करीब 400-450 लोग एकत्र हुए।  नरेंद्र दाभोलकर, गोविंद पानसरे और
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account