किसान आत्महत्या मामले में रमण सरकार दोषी, छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ   किसान आत्महत्या मामले में रमण सरकार दोषी, छत्तीसगढ़ किसान मजदूर महासंघ की आपात बैठक रायपुर में कल 18 जून को 16 जून को कर्जा माफी को लेकर प्रदेशव्यापी चक्का जाम आंदोलन को भी 1 दिन भी नहीं हुआ था कि आज सूचना मिली
Complete Reading

जब कोई कहता या लिखता है की हिंसक हुआ किसान आन्दोलन, 6 किसान की मौत ,इसका मतलब वो सरकार की भाषा लिख रहा है या पुलिस की विज्ञप्ति दोहरा रहा है.कहा तो यह भी जाया जाना चाहिए की हिंसक हुई  सरकार ,6 किसानो की हत्या .. बार बार किसानो के हिंसक होने की बात की
Complete Reading

*राज्य के 21 संगठनों ने मिलकर बनाया छत्तीसगढ किसान मजदूर महासंघ. 11.06.2017 *कर्ज मुक्ति और फसल के दाम के अलावा 21 सौ रुपए समर्थन मूल्य, 3 सौ रुपए बोनस, 5 एच पी तक सिंचाई पंप को निशुल्क बिजली, धान का एक एक दाना खरीदने का चुनावी वायदे पूरे करने के लिए निर्णायक संघर्ष करेंगे किसान*
Complete Reading

छत्तीसगढ़ में 16 जून को 21 संगठनों की अगुवाई में प्रदेशव्यापी चक्काजाम, रेल-रोको आंदोलन June 11, 2017   रायपुर। मध्यप्रदेश की आग अब छत्तीसगढ़ पहुंच चुकी है. किसानों ने यहां भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. इसका आगाज़ रविवार को रायपुर में हुआ. मध्यप्रदेश में किसानों पर फायरिंग के विरोध में 21 संगठनों
Complete Reading

“अच्छे दिन” के कानफाड़ू शोर के बीच 2% बढ़ गयी किसानों और मज़दूरों की आत्महत्या दर! ________ हम इस लेख में इस बात को समझने की कोशिश करेंगे कि मुख्यत: कौन सा किसान आत्महत्या कर रहा है – धनी किसान या छोटे ग़रीब किसान और क्यूँ?! राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आँकड़ों के अनुसार
Complete Reading

मोदी सरकार किसानों को राहत देने की बजाए कार्पोरेट घरानों के मुनाफे हेतु प्रतिबद्ध . . छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन ** पिछले एक महीने से चार प्रमुख मांगो पर आन्दोलनरत किसानों पर मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा करवाई गई फायरिंग और दमनात्मक कार्यवाही का छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन कड़े शब्दों में निंदा करता हैं, और शहीद किसानों
Complete Reading

एक दिवसीय बैठक दिनांक 15 जून 2017, रायपुर में . छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन ** जैसा आप जानते ही हैं कि सम्पूर्ण कृषि क्षेत्र आज गंभीर संकट के दोर से गुजर रहा हैं l पूर्ववर्ती व वर्तमान भाजपा सरकारों के द्वारा कार्पोरेट मुनाफे के लिए, जानबूझकर खेती व किसानों को नजर अंदाज किया गया हैं l
Complete Reading

. . * दो दिवसीय प्रशिक्षण दिया अधिवक्ताओं ने . ** रायगढ़ में आदिवासियों की जमीन बड़ी बड़ी कंपनिया किस तरह से छीनने में लगी हुई है वो किसी से अब छिपा नही है।लगातार वहां के साथी डिग्री प्रसाद चौहान जी सहित “आदिवासी दलित मजदूर किसान ,संघर्ष संगठन” के साथी इस लड़ाई में पहले से
Complete Reading

Daylight murder of constitutional rights by Gujarat Police and Gujarat State Government Gujarat | June 07, 2017: Around 2 PM, Gujarat Police arrested well known social activist Medha Patkar, noted Goldman Environmental Prize 2017 winner Prafulla Samantara, Dr. Sunilam, Aradhna Bhargava, Madhuresh Kumar, Himshi Singh, supporters from Gujarat and approximately 60 more people at Gujarat Border
Complete Reading

किसान से रिश्ता मत तोड़िये, समाज टूट जाएगा BY सचिन कुमार जैन ON 08/06/2017 द वायर Print More किसान सरकारी कर्मचारियों की तरह काम बंद नहीं करता है.  सूखे, बाढ़ समेत तमाम संकट से जूझ रहा है लेकिन अपना पुरुषार्थ नहीं छोड़ता. हमें सरकार के उस भुलावे से बाहर निकलना होगा कि बड़े उद्योगपति आयेंगे
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account