ग्रामीणों ने कोयला खदान के लिये छत्तीसगढ़ पावर उत्पादन कंपनी के डीपीएस सर्वे को बंद कराया और सामग्री जप्त कर ली .

** ग्रामीणों ने  कोयला खदान के लिये छत्तीसगढ़ पावर उत्पादन कंपनी के   डीपीएस सर्वे को बंद कराया और सामग्री जप्त कर ली .
* मोरगा  पुलिस चौकी प्रभारी ने सभी गांवों में घूमकर धमकी दी की यदि कंपनी के काम का विरोध किया गया तो सभी को जेल भेज दूंगा.
*  बडे आंदोलन की तैयारी .
**
हसदेव क्षेत्र में पतुरिया और गुड़मुड़ी कोयला खदान के लिए चोरी छुपे किये जा रहे जी डी पी एस सर्वे को बंद करा कर ग्रामीणों ने ट्रेक्टर और खम्बे पंचायत भवन में पंचनामा बनाकर जब्त कर लिया.
छत्तीसगढ़ पावर उत्पादन कंपनी के द्वार पिछले एक महीने से खदान के लिए सर्वे का काम करने का प्रयास किया जा रहा है जिसका प्रभावित गाँव के लोग लगातार विरोध कर रहे हे, यहाँ तक कंपनी के कर्मचारियों ने मदनपुर में ही किराये से रहने की कोशिश की जिसे गांव वालों ने खाली करवा दिया, इसके बाद मोरगा चौकी प्रभारी ने सभी गांवों में घूमकर धमकी दी की यदि कंपनी के काम का विरोध किया गया तो सभी को जेल भेज दूंगा । इसके उपरांत 17 जनवरी को  मोरगा में हसदेव अरण्य बचाओ संघर्ष समिति की बैठक आयोजित कर उमेश्वर आर्मो के नेतृत्व में प्रभावित गांव  के 6 सरपंचो ने थाने जाकर अपना विरोध जताया और कहा कि आप अपनी कार्यवाही करिये हम अपने ग्रामसभा का निर्णय लागु करवाएंगे,खदान के लिए काम होने नहीं देंगे.

पावर कंपनी के द्वारा बाहर  से मजदूर लेकर काम करने के प्रयास किये जा रहा है .
 20 जनवरी की ही घटना है जिसमे गांव वालो ने  कंपनी के ट्रेक्टर को  जप्त करके पतुरिया गांव के पंचायत में रखा हैं.
हसदेव के कोरबा जिले में 2 खदानों को खोलने का गांव वाले लगातर विरोध कर रहे हैं । जिसमे आने वाले दिनों में  ग्रमीणों के खिलाफ फर्जी केस बनाने की भी संभावना है .

 फरबरी अंत तक  छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन  मोरगा में एक एक बड़ा सम्मलेन आयोजित किया जायेगा ,जिसमें प्रदेशभर से कार्यकर्ता शामिल होंगे और आंदोलन की रूपरेखा बनायेंगे .
**
22.01.2017

cgbasketwp

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: