ग्रामीणों को पकड़ नक्सली बताने में तुली,हाजरो की संख्या में ग्रामीणों ने किया थाना का घेराव
बस्तर की पुलिस झूटी सफलता की कहानी रच रही ।
ग्रामीणों को पकड़ नक्सली बताने में तुली,हाजरो की संख्या में ग्रामीणों ने किया थाना का घेराव
मोखपाल थाना कुआकोंडा से बस्तर पुलिस द्वारा रसद पहुँचाने के मामले में 5 तथाकथित नक्सलियों के सहयोगी के आरोप में गिरफ्तार किये लोगो को बेकसूर आदिवासी ग्रामीणों को पकड़ कर नक्सली बताने का आरोप और प्रतड़ना का आरोप लगाते मोखपाल/गुड़रा के ग्रामीण कुआकोंडा थाने का शांतिपूर्वक घेराव कर दिये है ।
मोखपाल के ग्रामीणों को नक्सली बता कर पकड़े गये ग्रामीणों
 को बेकसूर बताते रिहाई की मांग करते हुए थाने के सामने डटे हुये है। खबर है कि गुड़रा के कई सौ ग्रामीण कुआ कोंडा थाने का घेराव कर दिया गया है।
बस्तर पुलिस और सरकार की सोची समझी साजिश के तहत नक्सली बता कर लगातार बेकसूर आदिवासी ग्रामीणों को गिरफ्तार कर जेल में डाला जा रहा तथा फर्जी आत्मसमर्पण का ढोंग रचा जा रहा है । इस पुरे खेल में बस्तर पुलिस के एक उच्चअधिकारी जो बस्तर के सभी आदिवासियों को नक्सली समझता है, और उनके अन्याय के खिलाफ लिखने वाले ,समाजिक कार्यकर्ताओ को भी जेल जाने की धमकी देते रहता है।
इस पुलिस अधिकारी के रहता नक्सलवाद बस्तर में खत्म नही बल्कि पनप रहा है बेगुनाहो को जेल, में डाला जा रहा है

cgbasketwp

comments
  • यह घटना किस तारीख की है? पुलिस अधिकारी का नाम क्या है? चित्र में संख्या सैकड़ों में दिख रही है न कि हज़ारों में. ऐसे संवेदनशील मुद्दे पर जो बात कही जाए वह प्रामाणिक होना चाहिए.

  • Leave a Reply

    Create Account



    Log In Your Account



    %d bloggers like this: