शर्म हो तो मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए

CM and Health Minister should resign says Shobha Ojha

print 
11/14/2014 9:06:09 PM
बिलासपुर। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा कि स्थिति बेहद चिंताजनक है। अस्पताल में महिलाएं जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही हैं, वहीं नवजात बच्चों का जीवन भी संकट में है। दो-दो, तीन-तीन माह के बच्चे बिना मां के हो गए हैं।

ब्यूरोक्रेट और मंत्री साक्ष्य को नष्ट करने में पूरी ताकत झोंक रहे हैं। शर्म हो तो मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। वे अपोलो अस्पताल में मरीजों से भेंट करने के बाद पत्रकारों से चर्चा कर रही थीं।

आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि अपोलो में 45 मरीज भर्ती हैं, इनमें से 9 को आईसीयू में रखा गया है। पूरा मामला महिलाओं के जीवन से खिलवाड़ का है वे उन गांवों में भी गई थीं जहां के पीडि़तों की मौत हुई है।

उन्होंने कहा कि आखिर सरकारी खरीदी में एेसी जहरीली दवाई आई कैसे, जिससे मल्टीआर्गन फेल हो गए। इसकी जांच होनी चाहिए। नकली दवाओं का रैकेट चलाने वालों पर सरकारी हत्या का मामला दर्ज किया जाना चाहिए चाहे वह कोई भी हो।

cgbasketwp

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: