इतिहास ; पत्रकार और इतिहासकार फ्रिट्ज गेरलिच जिन्हें हिटलर ने आज ही मौत दे दी थी.

जलेश्वर उपाध्याय की वॉल से इतिहास_के_पन्नों_सेइतिहास के कुछ जख्म कभी भरते नहीं और न उनकी यादें मिटती हैं। आज का दिन ऐसा ही है, जब 1934 में हिटलर के हत्यारों ने अपने विरोधियों को मौत के घाट उतार दिया था। उनमें से एक थे पत्रकार और इतिहासकार फ्रिट्ज गेरलिच। फ्रिट्ज Continue Reading

यह तस्वीर मानव इतिहास का वो दस्तावेज़ हैं जिस पर सभ्य समाज को नाज़ होना चाहिए.

(पहले ज़रा इस तस्वीर को इत्मीनान से देख लीजिए। ये तस्वीर मानव इतिहास का वो दस्तावेज़ हैं जिस पर सभ्य समाज को नाज़ होना चाहिए।) प्रोम्थियस प्रताप सिंह द्वारा प्रस्तुत दोनों हाथ छाती पर बांधे ये आदमी ऑगस्ट लैंडमेसर है। जब उसके चारों तरफ लोग नाज़ी सैल्यूट कर रहे हैं Continue Reading

13 मई 1942 ; आज के दिन ही आश्वित्ज़ के गैस चेंबर में 1400 यहूदियों को मारा गया था.

प्रोमिथ्यस प्रताप सिंह द्वारा प्रस्तुत 13 मई 1942* इतिहास के पन्नों में आज का दिन एक दर्दनाक, भयावह घटना के रूप में मौजूद है। आज के दिन आश्विट्ज़ के गैस चेम्बर में लगभग 1400 यहूदियों को मारा गया था।आश्विट्ज़ जो दक्षिणी पोलैंड में औसवेसिम के औद्योगिक शहर के पास स्थित Continue Reading

जहां कहीं भी भीड़ बनती है, वहीं हिटलर का जर्मनी बन जाता है।

रवीश कुमार NDTV *** जर्मनी की तमाम रातों में 9-10 नवंबर 1938 की रात ऐसी रही जो आज तक नहीं बीती है। न वहां बीती है और न ही दुनिया में कहीं और। उस रात को CRYSTAL NIGHT कहा जाता है। जर्मनी की तमाम रातों में 9-10 नवंबर 1938 की Continue Reading