आरक्षण गरीबी नहीं, वर्णव्यवस्था खत्म करने के लिए है : सीमा आज़ाद

January 10, 2019 CG Basket 0

10.01.2019  आरक्षण गरीबी नहीं, बल्कि वर्णव्यस्था खत्म करने के लिए है। गरीबी दूर करने के लिए सरकार को अपनी आर्थिक नीतियों में बदलाव करना चाहिए, […]

कुम्भमेला: बाजार और धर्म का गठजोड़ ःः सीमा आज़ाद , संपादक 

December 30, 2018 CG Basket 0

30.12.2018 जीवन में धार्मिक होना आस्था का विषय हो सकता है, लेकिन जीने के लिए धर्म का इस्तेमाल व्यवसाय है। धर्म में पूंजी-निवेश धर्म का […]

पाकिस्तान की मशहूर शायरा फहमीदा रियाज़ को बहुत याद करते हुए ःः सीमा आज़ाद

November 22, 2018 CG Basket 0

22.11.2018 पाकिस्तान के हालात पर फ़हमीदा रियाज़ पाकिस्तानी शायरा और एक्टिविस्ट फ़हमीदा रियाज़ सन 2012 के 8 से 10 नवम्बर तक इलाहाबाद में थीं। इस दौरान […]

इलाहबाद : ये हर तरफ खुदा-खुदा क्यों है ? : सीमा आज़ाद

November 3, 2018 CG Basket 0

दस्तक, नवम्बर-दिसम्बर 2018, का सम्पादकीय  इलाहाबाद, बनारस सहित उत्तर प्रदेश के ज्यादातर शहर इस समय धूल-मलबे से अंटे पड़े हैं। यहां के लोग इस खुदाई […]

मार्क्स की 200वीं जयन्ती और दास कैपीटल का 150 वां साल /. ‘‘सवाल दुनिया को बदलने का है’’. सीमा आज़ाद

May 4, 2018 CG Basket 0

5 मई 2018  ‘अब तक दार्शनिकों ने समाज की व्याख्या की है, लेकिन सवाल इसे बदलने का है।’’   दुनिया को समझने ही नहीं, बल्कि […]

एक सीरिया इधर भी : 12 अप्रेल को भारत सरकार ने भी अपनी जनता पर हवाई हमले शुरू कर दिये : झारखंड .: सीमा आजा़द

April 25, 2018 CG Basket 0

  25.04.2018 14 अप्रैल को अमेरिका ने सीरिया में रासायनिक हथियार होने के झूठ के साथ हवाई हमला किया। इसमें कितने की जान-माल का नुकसान […]

? अगर तुम औरत हो. : सीमा आज़ाद

April 19, 2018 CG Basket 0

अगर तुम औरत हो अगर तुम कश्मीरी औरत हो तो राष्ट्रभक्ति के लिए हो सकता है तुम्हारा बलात्कार, बलात्कारियों के समर्थन में फहराये जा सकते […]

? अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : हादिया के बहाने एक नजर, महिलाओं के जनवाद पर : सीमा आज़ाद ,संपादक दस्तक़

March 7, 2018 CG Basket 0

दस्तक मार्च-अप्रैल का सम्पादकीय   8.03.2018  इलाहाबाद .   24 साल की हादिया अपने घर से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक बार-बार कह रही है कि […]