कहब तो लग जाई धक से – आर्टिकल 15. काला फिल्म के बाद एक अच्छी फिल्म .संजीव खुदशाह

फिल्म आर्टिकल 15 की शुरूआत एक प्रसिद्ध जन गीत से होती है. / कहब तो लग जाई धक् से, धक् से- / बड़े-बड़े लोगन के बंगला दो बंगला./और हीरो हौंडा अलग से, अलग से. ये जन गीत मानों यह संदेश दे रहा है कि इस फिल्म में विषमता और भेदभाव Continue Reading

युवा रंगकर्मी मानव अधिकार कार्यकर्ता अनुज श्रीवास्तव से डीएमए इंडिया के लिये संजीव खुदशाह की महत्वपूर्ण बातचीत.

युवा रंगकर्मी सामाजिक कार्यकर्ता अनुज श्रीवास्तव से बातचीत हो रही है पर्सनालिटी ऑफ द वीक की इस खास कड़ी में और बातचीत कर रहे हैं संजीव खुदशाह। वह बता रहे हैं कि किस प्रकार उन्होंने डॉ अंबेडकर और मार्क्स की तस्वीर के समक्ष संविधान की शपथ लेकर विवाह किया। वे Continue Reading

सोशल मीडिया का तिलिस्म : संजीव खुदशाह

आज का युग सही मायने में सोशल मीडिया का युग है। लोगों को सोशल बनाने एवं समान विचारधारा वाले लोगों को जोड़ने में सोशल मीडिया का एक बड़ा योगदान है। कुछ लोग यह मानते हैं की सोशल मीडिया एक खाई की तरह है जिसमें आप जिस विचारधारा के हैं उस Continue Reading

पर्सनालिटी ऑफ द वीक में मराठी कवि कपूर वासनिक से विशेष बातचीत. डीएमए इंडिया के लिये संजीव खुदशाह द्वारा .

इस रविवार पर्सनालिटी ऑफ द वीक खास कड़ी में हम बातचीत कर रहे हैं मराठी कवि कपूर वासनिक जी से जो मराठी साहित्य में डब्लू कपूर के नाम से जाने जाते हैं। वह बता रहे हैं यदि आप लेखन की दुनिया में है तो आपका नाम और सरनेम कितना महत्वपूर्ण Continue Reading

सामाजिक कार्यकर्ता प्रियंका शुक्ला से संजीव ख़ुदशाह की बातचीत. Dmaindiaonline

इस रविवार पर्सनालिटी ऑफ द वीक इस खास कड़ी में हम पेश कर रहे हैं सामाजिक कार्यकर्ता प्रियंका शुक्ला से संजीव ख़ुदशाह की बातचीत।

डा.पायल तड़वी की संस्थागत हत्या और गणेश कौशले के साथ भेदभाव के खिलाफ रायपुर में प्रदर्शन .

रायपुर के आंबेडकर चौक में दलित मुक्ति मोर्चा एवं डी एम ए ऑनलाइन के तत्वधान में डॉक्टर पायल तड़वी के संस्थागत हत्या के खिलाफ एक विरोध प्रदर्शन किया गया। इस प्रदर्शन में एससी एसटी ओबीसी माइनॉरिटी के लगभग 100 लोग भाग लिए और इसके अंतर्गत आंबेडकर चौक में जोरदार नारेबाजी Continue Reading

पर्सनैलिटी ऑफ द वीक में समाजवादी नेता आनंद मिश्रा .Dmaindia on line .

इस रविवार किसान नेता समाजवादी विचारक श्री आनंद मिश्र जी पर्सनैलिटी ऑफ द वीक के इस खास एपिसोड में बता रहे हैं कि जो स्थान कम्युनिस्ट आंदोलन में कम्युनिस्ट मेनिफेस्टो का है। वही स्थान भारतीय राजनीति में डॉक्टर अंबेडकर की किताब “जातिभेद का उच्छेद” है इसलिए इसे पढ़े बिना आप Continue Reading

रुब़रू , सीजीबास्केट यूट्यूब चैनल : दलित चिन्तक, साहित्यकार और लेखक संजीव खुद्शाह से विभिन्न विषयों पर विस्तार से चर्चा. तीन भाग में ..

उनकी लेखन प्रक्रिया ,अनुभव , चिंताएं और आज के सन्दर्भ में अम्बेडकर वाद ,वामपंथ और गाँधी पर एतिहासिक सन्दर्भ में बातचीत . सुविधा के लिए इस बातचीत को तीन भाग में बांटा गया हैं.,सीजी बास्केट के लिए बातचीत की हैं रंगकर्मी अनुज श्रीवास्तव ने. 💜💙💚🖤❤ भाग 1 पहली पुस्तक सफाई Continue Reading

पर्सनैलिटी आँफ दी वीक में डा. लाखन सिंह : डीएमए आँन लाईन .

इस सप्ताह हम चर्चा कर रहे है मानव अधिकार कार्यकर्ता और पीयूसीएल छत्तीसगढ़ से जुड़े डा. लाखन सिंह से.जो मूलतः ग्वालियर से है और छत्तीसगढ़ में विभिन्न जन आंदोलनों मे सक्रिय है.वे बता रहे है कि कैसे ग्वालियर मेंं वामपंथी आंदोलन से जुड़े रहे ,अपने दोस्तों जो बाद में माकपा Continue Reading

बुध्द पूर्णीमा पर विशेष : बुद्ध विष्णु के अवतार नहीं है.. संजीव खुदशाह .

पिछड़ा वर्ग के अध्ययन से बुद्ध की जाति पर पुनर्विचार करना लाजमी है, क्योंकि इस जाति के आधार पर ही बुद्ध को ब्राम्हणों द्वारा विष्णु के दसवें अवतार के रूप में प्रतिस्थापित किया गया। इसी प्रतिस्थापना के खेल में बुद्ध की सारी उपलब्धियों पर पानी फेर दिया गया, क्योंकि इस स्थापना से Continue Reading