राजनांदगांव ,किसान संकल्प यात्रा ःः राज्य सरकार के प्रति किसानों का आक्रोश राजधानी में प्रदर्शित न हो सके इसलिए किसान संकल्प यात्रा का बार बार दमन . .

  शांति पूर्वक विरोध प्रदर्शन के लोकतांत्रिक व संवैधानिक अधिकारों को कुचल रही हैं रमन सरकार . 15.09.2018 ,रायपुर  जिला किसान संघ राजनांदगांव के द्वारा सभी गांवों में फसल बीमा का भुगतान करने, वर्ष 2014-16 तक का धान बोनस देने, किसानों को क़र्ज़मुक्त करने, चना की खरीदी न करने से Continue Reading

राजनांदगांव के किसान 14 से करेंगे पदयात्रा, 17 को रायपुर पहुंचकर करेंगे आमसभा, सौंपेंगे ज्ञापन

12.09.2018 / राजनांदगांव  राजनांदगांव के सैकड़ों अपनी विभिन्न मांगों को लेकर किसान जिला किसान संघ के झंडे तले 14 सितम्बर से राजनांदगांव से पदयात्रा शुरू करेंगे और 17 सितम्बर को रायपुर पहुंचकर आमसभा करेंगे और मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपेंगे. किसान संघ के नेता सुदेश टीकम, मदन साहू, चंदू साहू आदि Continue Reading

छतीसगढ़ सरकार ने केन्द्रीय कानून और हाईकोर्ट के निर्देश के बाबजूद संविदाकर्मी महिलाओं को 6 माह का मातृत्व अवकाश आदेश जारी नहीं किया .: छतीसगढ बचाओ आंदोलन ने की मांग ,एक अप्रेल 2017 से लागू करे आदेश .

31.07.2018 संविदाकर्मी महिलाओं को 6 माह का मातृत्व अवकाश देने बनाये गए केंद्रीय कानून को डेढ़ साल तक लागू न करना रमन सरकार का महिलाओं के प्रति असंवेदनशील रवैया दर्शाता हैं। छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन का मानना हैं कि राज्य सरकार महिला अधिकारों के प्रति संवेदनशील नही हैं अन्यथा इतने महत्वपूर्ण Continue Reading

रायपुर में विशाल धरना : छत्तीसगढ़ में “कानून का राज” या कानून एवं व्यवस्था कुछ हैं ही नहीं :  स्वामी अग्निवेश पर भाजपा के लोगों  द्वारा हमले की निंदा और हमलावरों पर कार्यवाही की मांग

लोग भय, भूख और भ्रष्टाचार के तले दबते जा रहे हैं 17.07.2018/ रायपुर  लोकतान्त्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ जनसंगठनो ने दिया एक दिवसीय धरना देकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सोंपा लोकतान्त्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन Continue Reading

लोकतांत्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ एक दिवसीय धरना 17 जुलाई को रायपुर में.

15.07.2018 / रायपुर  लोकतांत्रिक व संविधानिक अधिकारों के हनन एवं राजकीय दमन के खिलाफ छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन सहित अन्य जन संगठन संयुक्त रूप से दिनांक 17 जुलाई 2018 को बुढा तालाब, रायपुर में एक दिवसीय धरना आयोजित कर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सोपेंगे l नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा Continue Reading

मानवाधिकार कार्यकर्ता, ट्रेडयुनिनिस्ट, एवं हाईकोर्ट की अधिवक्ता सुधा भारद्वाज के खिलाफ फर्जी आरोप लगाने वाले अर्नव गोस्वामी और उनके चैनल की हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं .

5.07.2018 रायपुर  छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन इन फर्जी दुष्प्रचारो और कार्यवाहियों का डटकर मुकाबला करेगा l छत्तीसगढ़ की वरिष्ठ मानवाधिकार कार्यकर्त्ता, ट्रेडयुनिनिस्ट, एवं हाई कोर्ट की अधिवक्ता सुधा भारद्वाज के खिलाफ फर्जी आरोप लगाने वाले अर्नव गोस्वामी और उनके चैनल रिपब्लिक टी. वी. की छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन कड़े शब्दों में निंदा Continue Reading

कॉर्पोरेट लूट हेतु छत्तीसगढ़ में अघोषित आपातकाल, लूट और दमन के खिलाफ जनसंगठनों द्वारा संयुक्त आन्दोलन का ऐलान .

25.06.2018 रायपुर  छत्तीसगढ़ बचाओ आन्दोलन सहित अन्य जन आन्दोलनों की संयुक्त बैठक आज दिनांक 25 जून को शंकर नगर रायपुर में आयोजित की गई l बैठक में प्रदेश में आन्दोलनों एवं लोकतान्त्रिक अधिकारों पर हो रहे हमलों व दमन पर चिंता व्यक्त की गई l उपस्थित साथियों ने कहा कि Continue Reading

छत्तीसगढ़ के वनों का विनाश जंगल – जमीन पर निर्भर समुदाय की खेती से नहीं, बल्कि खनन परियोजनाओं से हुआ हैं .: वन विभाग का यह कहना कि “वनाधिकार पत्र का वितरण हाथियों के हमले के लिए जिम्मेदार हैं” उसकी आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाता हैं .: छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन .

18.06.2018/ रायपुर . छतीसगढ बचाओ आंदोलन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि ,   वन विभाग का यह प्रतिवेदन कि “वनाधिकार पत्र का वितरण हाथियों के हमले के लिए जिम्मेदार हैं” उसकी आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाता हैं छत्तीसगढ़ के वनों का विनाश जंगल – जमीन पर निर्भर समुदाय की Continue Reading

महाराष्ट्र सरकार कानून के शासन की जगह प्रतिशोध की राजनीति बंद कर समाज के कमजोर वर्गों और नागरिक अधिकारों के लिए कार्यरत गिरफ्तार पांचों साथियों को रिहा करे .: छतीसगढ बचाओ आंदोलन.

7 जून 2018 विगत 31 दिसम्बर को भीमा कोरेगांव शौर्य दिवस मनाते दलितों पर हमले हुए थे जिसमें दलित साथी घायल और शहीद हुए थे परंतु सरकार ने इस हिंसा के लिए दलितों को ही जिम्मेदार ठहराया और पूना में यलगार परिषद तथा प्रेरणा अभियान के साथियों के खिलाफ प्राथमिकी Continue Reading

हसदेव अरण्य की ग्रामसभाएं अब किसी भी कीमत पर इस वन क्षेत्र के विनाश की अनुमति नही देंगी :  विश्व पर्यावरण दिवस” के अवसर पर लोगों ने लिया संकल्प .

5 जून 2018 विश्व पर्यावरण दिवस” के अवसर पर लोगों ने लिया संकल्प – हसदेव अरण्य में अब किसी भी खनन परियोजना को अनुमति नही, आगामी 11 -12 जून को ग्रामसभाएं पुनः विरोध में पारित करेंगी प्रस्ताव l रमन सरकार के विकास में सिर्फ कार्पोरेट शामिल, गरीब आदिवासी किसान नही Continue Reading