कट्टर हिन्दू राष्ट्रवाद की जीत, भारतीय लोकतंत्र की हार.

उत्तम कुमार, संपादक दक्षिण कोसल पहले ओपिनियन पोल उसके बाद एक्जीट पोल के मार के बाद बचा ही क्या रहता है कि चुनाव परिणाम को इतमिनान से बैठकर देखा जाए। ईव्हीएम की होशियारी एक घंटे में ही सारा परिणाम हमारे समक्ष उड़ेल देता है। नाम मात्र का व्हीव्हीपेट उसे भी Continue Reading

अब्दुस्सलाम कौसर से एक मुलाक़ात ःः मैं शायर हूं ग़ज़ल के खुशनुमा जेवर बनाता हूं ःः उत्तम कुमार , संपादक दक्षिण कोसल

कौसर छत्तीसगढ़ उर्दू ग़ज़ल के आबरू.. आज अचानक छत्तीसगढ़ के नामी शायर कौसर से मुलाकात हो गई। लगा किसी शिक्षक से मुलाकात हो गई।अचानक पहुंच गए और ना ही कोई जान पहचान जब हमने पत्रकार होने की बात कही तो पहले हमारी पहचान और हमारे अख़बार की पुष्टि कर ली। Continue Reading

भिलाई इस्पात संयंत्र में हो रही मजदूरों की हत्या चुनावी मुद्दा क्यों नहीं? #उत्तम कुमार, सम्पादक दक्षिण कोसल

24.10.2018 भिलाई स्टील प्लांट में पिछले दिनों गैस पाइप लाइन के फटने से बड़ा हादसा हो गया है। जिन पुरस्कृत मजदूरों की मौत हो गई उसे कई संगठनों ने हत्या करार दिया। मिली जानकारी के अनुसार ब्लास्ट फर्नेस 8 से कोक ओवन बैटरी नंबर 11 के बीच डी ब्लांकिंग का Continue Reading

संविधान को जलाने वाले सवर्णों के नकाब में देशद्रोही : उत्तम कुमार, संपादक दक्षिण कोसल

10.08.2018 विश्व मूलनिवासी अधिकार दिवस के दिन यानी नौ अगस्त को दिल्ली के जंतर मंतर पर हम, भारतीय गणराज्य के हांसिए पर खड़े नागरिक, जो संविधान और इस देश की संसद और यहां के कानून और व्यवस्था में आस्था रखते हैं, इस बात से बेहद डरे हुए तथा चिंतित हैं Continue Reading

महिला यौन हिंसा में अव्वल भारत .-  उत्तम कुमार , दक्षिण कोसल .

27.06.2018 जिस देश में महिलाओं की पूजा होती उस देश के लिए चौंकाने वाली खबर है कि भारत महिला यौन हिंसा में दुनिया में पहले नंबर पर है। जब प्रधानमंत्री एक बड़े से पत्थर पर योग का वीडियो बना रहे थे ऐसे समय में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर यह Continue Reading

बोड़सरा का सच :  बोड़सरा इतिहास और विवाद के परतों को कुरदते हुए सच्चाई पर आधारित गहन पड़ताल.: उत्तम कुमार : संपादक दक्षिण कौशल 

5.06.2018 बोड़सरा का एक गौरवशाली इतिहास है। इस पूरे इतिहास को देखते हुए बोड़सरा पर वास्तव में सतनामी समाज का ही हक बनता है जो सतनामियों के साथ पूरे पीडि़त समाज का ऐतिहासिक धरोहर है लेकिन उस पर कब्जा को लेकर जो विवाद उत्पन्न किया गया है उसे हल करने Continue Reading

शिक्षाकर्मियों का आंदोलन ब्राह्मणवर्णियों के चंगुल में कैद : लेकिन किसी में इच्छाशक्ति नहीं है कि वह संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा करते हुए शिक्षाकर्मियों की समस्याओं के समाधान के लिए पहले एक कमेटी का गठन कर मंत्रीमंडलीय कैबिनेट में शिक्षाकर्मियों को सेवक नहीं बल्कि लोकसेवकों के रूप में बदलाव कर इस मामले को विधानसभा के आसंदी में विधेयक पारित करवा कर संविधान के अनुच्छेद 309 के अंतर्गत लाए. :: उत्तम कुमार ( दक्षिण कौशल )

( फेसबुक वाल से आभार सहित ) शिक्षाकर्मियों के आंदोलन का समाधान संवैधानिक अमल और ब्राह्मणवर्णीय व्यवस्था के बीजनाश में निहित है। पहले शिक्षा ब्राह्मणों की बपौती थी अब जब शूद्रों ने लोगों को शिक्षा देना शुरू किया तबसे शिक्षा व्यवस्था को तहस नहस करने के लिए पहले सरकारी स्कूलों Continue Reading

आखिरकार नियोगी के सपनों का विसर्जन क्यों? –उत्तम कुमार, संपादक, दक्षिण कोसल

आज छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा समन्वय समिति के साथ कई उप हिस्सों में अलग-अलग लोगों द्वारा संचालित है लेकिन फिर भी दूर-दूर से जो लोग आते हैं वे नि:सन्देह वर्तमान नेता या मुखिया के कारण नहीं बल्कि कामरेड शंकर गुहा नियोगी के कारण ही आते हैं। पिछले 26 साल से हजारों Continue Reading