Q and A with Rinchin

Friday, September 15, 2017 If that’s got you eager to read Rinchin’s books, do visit our website. Tulika Publishers at 2:55 PM Q and A with Rinchin As we told you in the previous post, we are intrigued with Rinchin’s storytelling technique and the way she weaves the story and its social, political, cultural and environmental issues into a fine
Complete Reading

Chess is a popular pastime in this neighbourhood, with roadside games bringing together men, to challenge each other in friendly and sometimes unfriendly matches. But for some, the pawns include morality and religion causing tensions to erupt when a tournament gets underway. Against this backdrop, a domestic worker with a secret hobby, a former journalist
Complete Reading

7.10.2017 / रायपुर डाॅ. बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर द्वारा आयोजित प्रथम महिला सम्मेलन की 75वीं वर्षगाठ (हीरक जयंती) के अवसर पर भारतीय बौद्ध महासभा जिला शाखा रायपुर द्वारा महिला संगोष्ठी 01 अक्टूबर 2017 को वृन्दावन हाल रायपुर में आयोजित की गई।   यह संगोष्ठी स्त्री सशक्तिकरण और डाॅ. बी.आर. अंबेडकर के विचार व सामाजिक बेड़ियां
Complete Reading

दोस्तों आज हम समूह की रचनाकार ज्योति देशमुख की कविताओं को पढें और इन पर बात करें। ज्योति देशमुख की कविताएँ दस्तक के लिए अमिताभ मिश्र 1. गौरी लंकेश तुम्हारी हत्या की खबर से दिल दहल गया बहुत देर तक सोचती रही कैसे समय में जी रहे है हम कैसे समाज का हिस्सा है जहाँ
Complete Reading

“गौरी लंकेश और कांचा इलैया के पक्ष में विरोध प्रदर्शन आयोजित” ————————————————- भोपाल प्रसिद्ध पत्रकार गौरी लंकेश की नृशंस हत्या का एक माह गुज़रने पर भी हत्यारों का कोई सुराग न मिलने और प्रसिद्ध दलित चिंतक कांचा इलैया को दी जा रहीं धमकियों के विरोधस्वरूप पूरे देश में आज प्रदर्शन किये गए। भोपाल में यह
Complete Reading

** नंद कश्यप अब तो सारे विश्लेषक कह रहे, मोदी सरकार के तीन साल देश के जरूरतमंदों, बेरोजगारों, किसानों और असंगठित मजदूरों , कुटीर शिल्प आधारित उद्योग छोटे व्यापारियों,लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए विनाशकारी रहा है,कोई फला फूला है तो वो विदेशों से सूचना प्रौद्योगिकी लाकर देश में बेचने वाले और प्राकृतिक संसाधनों जल
Complete Reading

✍?  आर चेतन क्रांति दस्तक के लिए प्रस्तुति : अनिल करमेले   सीलमपुर की लड़कियां `विटी´ हो गईं लेकिन इससे पहले वे बूढ़ी हुई थीं जन्म से लेकर पंद्रह साल की उम्र तक उन्होंने सारा परिश्रम बूढ़ा होने के लिए किया पद्रह साला बुढ़ापा जिसके सामने साठ साला बुढ़ापे की वासना विनम्र होकर झुक जाती
Complete Reading

  Ibc 24 बिलासपुर के ब्यूरो प्रमुख ** इस लेख का शीर्षक अजीब लग सकता है, थोड़ा अभद्र भी, लेकिन मैं इसे जस्टिफाई करता हूं। मेरे एक मित्र हैं। मुंबई में रहते हैं, फिल्मों में लेखन करते हैं। उन्होंने एक किस्सा सुनाया था। एक प्रोड्यूसर ने एक कहानी सुनी और डायरेक्टर से कहा कि यदि
Complete Reading

गाँधी 1 अगस्त 1947 को पहली और आख़िरी बार कश्मीर गए । असल में शेख़ अब्दुल्ला की रिहाई में हो रही देरी और कश्मीर की अनिश्चितता को देखकर जवाहरलाल नेहरू ख़ुद कश्मीर जाना चाहते थे । लेकिन हालात की नाज़ुकी देखते हुए माउंटबेटन नहीं चाहते थे कि वह कश्मीर जाएँ और कोई नया तनाव पैदा
Complete Reading

Dear Concerned and Conscious Citizens, The assassination of journalist-activist Gauri Lankesh has evidently rung a strong alarm. Though the chain of resolve to condemn and resist the dastardly act exhibited across the nation is encouraging, much more needs to be done to counter the terror acts and save the precious dissident democratic spaces from the
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account