दिल्ली ःः देश भर के दलित साहित्यकारों ने समर्थन दिया, जंतर मंतर में नवें दिन क्रमिक अनशन जारी ःः पद्मश्री श्री भालू मोघे जंतर धरने पर आए.

हिमाचल में धर्मशाला में 1 दिन का उपवास व धरना. 5 फरवरी, 2019 : प्रयाग राज के कुम्भ क्षेत्र में आत्मबोधा नंद जी के उपवास को लेकर, उनके स्वास्थ्य और उनकी मांग दोनों के प्रति गंगा स्नान करने आए लोगों में चेतना और चिंता बढ़ी है। न केवल समाज कर्मी Continue Reading

तेलतुम्बडे की गिरफ्तारी का क्या आशय कि लोकतंत्र बचा हुआ है ःः उत्तम कुमार, संपादक दक्षिण कोसल

ं #STANDWITHANAND 2.02.2019 दलित शिक्षाविद् और सामाजिक कार्यकर्ता आनंद तेलतुम्बडे को सुबह 3:30 बजे मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया है। अगर अब भी हमें लगता है कि देश में लोकतंत्र बचा हुआ है तो इससे ज़्यादा बेशर्मी और क्या हो सकती है! दलित बुद्धिजीवियों में शुमार तेलतुम्बड़े को Continue Reading

क्या जनबुद्धिजीवी प्रोफेसर आनन्द तेलतुम्बड़े सलाखों के पीछे भेज दिए जाएंगे ? एक आसन्न गिरफ़्तारी देश के ज़मीर पर शूल की तरह चुभती दिख रही है. – लेखक और सांस्कृतिक संगठन

30.01.2019 पुणे पुलिस द्वारा भीमा कोरेगांव मामले में प्रोफेसर आनन्द तेलतुम्बड़े के ख़िलाफ़ दायर एफ आई आर को खारिज करने की मांग को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा ठुकरा दिए जाने के बाद यह स्थिति बनी है। अदालत ने उन्हें चार सप्ताह तक गिरफ़्तारी से सुरक्षा प्रदान की है और कहा है Continue Reading

अगर जोगेंद्र नहीं होते तो आम्बेडकर संविधान सभा में नहीं होते और आदिवासियों को असीमित अधिकार नहीं मिलते. #उत्तम कुमार, सम्पादक दक्षिण कोसल

29.01.2019 जो लोग यह समझते हैं कि नामोशुद्र आदिवासियों का शोषण कर रहे हैं उन्हें प्राणपुरूष जोगेन्द्रनाथ मंडल और बीआर आंबेडकर के इतिहास के विस्मृत कर दिए गए पन्ने को उलट कर पढ़ लेना चाहिए। इन दोनों ने भारत को हिन्दू राष्ट्र बनने से रोकने में प्रभावकारी भूमिका अदा की। Continue Reading

रोहित के संस्थानिक हत्या के तीन वर्ष बाद : रोहित की आत्महत्या दरअसल हत्या है  : उत्तम कुमार

18.01.2019 उत्तम कुमार द्वारा दक्षिण कोसल में लिखित आवरण कथा, फरवरी 2016 से. ‘मैं लिखना चाहता था, हमेशा से, विज्ञान के बारे में, कार्ल सगान की तरह और आखिर में बस यह एक खत है जो मैं लिख पा रहा हूं।’ रोहित कभी मरना नहीं चाहा होगा, उम्मीदों और सपनों Continue Reading

मेरी उम्‍मीदें बिखर चुकी हैं, मुझे आपका सहयोग चाहिए: प्रो. आनंद तेलतुम्‍बडे.

17.01.2018 बिग डेटा के विशेषज्ञ वैज्ञानिक और दलित विषय पर देश के अग्रणी विचारकों में से एक प्रो. आनंद तेलतुम्‍बडे ने अपने चाहने और जानने वालों के नाम एक अपील जारी की है। प्रो. तेलतुम्‍बडे उन बुद्धिजीवियों में शामिल हैं जिन्‍हें पुणे पुलिस ने ‍पिछले साल हुई भीमा कोरेगांव हिंसा Continue Reading

शहीद रोहित वेमुला (1986 -2016) ………  आज उनकी 3री बरसी है : ज़ुलैख़ा जबीं

अपनी आख़िरी सांस लेने से पहले रोहित ने हम सब (जो ज़िंदा हैं) के नाम एक ख़त लिखा था- जिसमें उन्होंने अपने प्यार, चाहत, मिशन और कम्पेशन को हम सबके साथ साझा किया था. बेशक उन्होंने अपनी मौत की ज़िम्मेदार किसी पे नहीं डाली है – लेकिन एक PHD करता Continue Reading

सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण :  संजीव खुदशाह

17.01.2019 जब से सवर्णों को 10% आरक्षण का मामला आगे बढ़ा है और जल्दबाजी में संविधान संशोधन और आरक्षण का बिल पास किया गया, यह घटना हैरान करने वाली है। समझ नहीं पा रहा हूं कि इस लेख की शुरुआत कहां से करूं। बहुत सारे लोग इस घटना से प्रतिक्रिया Continue Reading

सवर्ण आरक्षण: आरएसएस ने संविधान पर सर्जिकल स्ट्राइल कर दी है!

आरएसएस संविधान और आरक्षण व्यवस्था में बदलाव करना चाहता है. जब उसने ये काम किया तो विपक्ष को समझ में ही नहीं आया कि हो क्या रहा है. मोहम्मद ज़ाहिद 13 January, 2019 दी प्रिट से आभार सहित https://hindi.theprint.in/opinion/upper-caste-reservation-rss-constitution-surgical-strike-india/40778/ ** आरएसएस के प्रमुख मोहन भागवत की बातों को कभी हल्के Continue Reading