14 अप्रेल : संविधान को समझना क्यों जरूरी है। डॉक्टर अंबेडकर संविधान सभा के समापन भाषण में कहते हैं …

14 अप्रैल 2019 अंबेडकर जयंती के अवसर पर डीएमए इंडिया ऑनलाइन यूट्यूब चैनल की ओर से या खास वीडियो देखिए। संविधान को समझना क्यों जरूरी है। डॉक्टर अंबेडकर संविधान सभा के समापन भाषण में कहते हैं जॉन स्टुअर्ट मिल की चेतावनी को ख्याल रखना होगा। जिन्हें प्रजातंत्र को बनाए रखने Continue Reading

अम्बेडकर_की_तीन_चेतावनियां_और_भारत_@2019 : बादल सरोज 

14 अप्रैल 2019 तुलना बड़ी विचित्र है, किन्तु विडंबनाओं के दौर में सम्भावनाओं के विकल्प सीमित हो जाना लाजमी है। पिछले दिनों साक्षी महाराज का ‘ये चुनाव देश के आखिऱी चुनाव होंगे’ का आप्तवचन पढ़ा तो बाबा साहब अम्बेडकर की याद आई । खासतौर से उनकी वे तीन चेतावनियां याद Continue Reading

14 अप्रेल : आंबेडकर की महान कृति हिंदूधर्म की पहेलियां  : उत्तम कुमार

 14 अप्रेल  2019  भीमराव रामजी आंबेडकर ने अध्ययन के साथ सैकड़ों पुस्तकों की रचना की। उन्होंने एमए, पीएचडी, डीएससी, एलएलडी, डीलिट, बार-एट-लॉ की डिग्रिओं के साथ अपने लेखन कार्य को 22 खंडों व कई भाषणों में व अन्य विधाओं में संग्रहित किया है। उनका उद्देश्य हर वक्त लोगों के लिए Continue Reading

भाजपा हराओ लोकतंत्र बचाओ सांप्रदायिक उन्माद नहीं सुनिश्चित रोजगार चाहिए . छत्तीसगढ़ के सामाजिक कार्यकर्ताओं, बुद्धिजीवीयों ,साहित्यकारों ,रंगकर्मियों की  मतदाताओं से नागरिक अपील.

🔵🔴 मित्रों, 17 वीं लोकसभा के लिए आपको अपना सांसद चुनना है।2014 में विदेशों में जमा काले धन को वापसी,भय मुक्त शासन,सबका साथ सबका विकास किसानों को स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के अनुसार न्यूनतम समर्थन मूल्य, उनके कर्जों की माफी प्रति वर्ष दो करोड़ रोजगार पैदा करने आदि नारों के Continue Reading

डॉ आम्बेडकर : एक बहुआयामी व्यक्तित्व : प्रोफेसर हेमलता महिश्वर 

13.04.5019 हिंदी विभाग, जामिया मिल्लिया इस्लामिया नई दिल्ली. “डॉ अम्बेडकर सिर्फ दलितों के थोड़े ही हैं, वे तो हम सबके हैं। मैं भी उनके जयंती समारोह में जो राशि इकट्ठा की जा रही है, उसमें सहयोग देना चाहूँगा।” मेरे साथी डॉ विवेक दुबे ने यह कहा तो मुझे यकीन करने Continue Reading

पर्सनैलिटी ऑफ द वीक की इस 37 वीं कड़ी में. DMA on line .वंचितों की आवाज़ के लिये भारत का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्म विभूषण प्राप्त छत्तीसगढ़ की पहली लोक कलाकार तीजनबाई का साक्षात्कार …

पर्सनैलिटी ऑफ द वीक की इस 37 वीं कड़ी में. DMA on line .वंचितों की आवाज़ के लिये भारत का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्म विभूषण प्राप्त छत्तीसगढ़ की पहली लोक कलाकार तीजनबाई का साक्षात्कार दस हज़ार बार देखा गया .इसे लिया है संजीव खुदशाह ने . आपने यदि Continue Reading

जो भी हो… अभी तो देश का लोकतंत्र निलंबित है.

मोदी की दाढ़ी चुभ रही है सारे देश को  राजकुमार सोनी / अपना मोर्चा .काम के लिये  29.03.2019 पहले वे आए कम्युनिस्टों के लिए और मैं कुछ नहीं बोला क्योंकि मैं कम्युनिस्ट नहीं था. फिर वे आए ट्रेड यूनियन वालों के लिए और मैं कुछ नहीं बोला क्योंकि मैं ट्रेड Continue Reading

तमस और साम्प्रदायिकता  ःः अजय चंन्द्रवंशी, कवर्धा .

28.03.2019 भीष्म साहनी  विभाजन हमारे देश के लिए बीसवीं शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी थी; जिसकी परछाइयां आज भी जनमानस और देश की राजनीति को प्रभावित कर रही है। यह अनायास कम सायास अधिक है, क्योकि इससे कुछ लोगों का स्वार्थ सधता है। इसलिए वे इस ‘मुद्दे’ को कभी ‘ठंडा’ Continue Reading

अमर शहीद बालक दास की कुर्बानी और महंत भुजबल को याद किया नवलपुर समाधी पर .

बेमेतरा ,नवलपुर . 26.03.2019   सतनाम समाज के महान क्रांतिकारी शहीद बालक दास की समाधि पर आज समाधि मेला और आयोजित किया गया .नवलपुर वही ग्राम है जहाँ लोक समाज की रोटी और सम्मान के लिये महान संत गुरूघासीदास के पुत्र और उत्तराधिकारी बालक दास शहीद हुये और उनका कफन Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : महिला विरोधी हिंसा ,अवैध गिरफ्तारीयों ,फासिस्ट दमन , के खिलाफ रायपुर में महिला अधिकार मंच का थरना, प्रदर्शन तथा बड़ी संख्या में गिरफ्तारी .

रायपुर 8 मार्च , रायपुर  आज रायपुर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला अधिकार मंच छत्त्तीसगढ ने प्रदेश में हिंसा के अलग-अलग रूपों का जैसे प- मजदूरों की आजिविका छीनना या उनको न्यूनतम वेतन ना देना, महिलाओं पर तेजाब छिडकाव, अत्यधिक संसाधनों के खनन, विस्थापन तथा वंचितों के Continue Reading