हस्तिनापुर का रिवाज़ और काशी का न्याय.

देशबन्धु में संपादकीय आज. श्रीकांत वर्मा अपनी कविता ।’काशी का न्याय’ में कहते हैं- सभा बर्खास्त हो चुकी, सभासद चलें जो होना था सो हुआ, अब हम, मुंह क्यों लटकाए हुए हैं? क्या कशमकश है? किससे डर रहे हैं? फ़ैसला हमने नहीं लिया- सिर हिलाने का मतलब फ़ैसला लेना नहीं Continue Reading

ज़ाफ़रानी पत्थर : नवल शर्मा

ज़ाफ़रानी पत्थर * पत्थर के औजार बने हथियार बने . पत्थर पर इतिहास दर्ज है . किले और बलंद इमारतों की – बुनियाद में पत्थर दबे हैं . कहते हैं मुहब्बत की इमारत की बुनियाद में पत्थर नहीं हैं . पत्थरबाज – पत्थरबाजी नफ़रत की आवाज़ बन गयी . बंदूक Continue Reading

यदि आपने मलाला जुसुफ़ज़ई का नाम सुना है लेकिन सुरेखा भोतमांगे का नहीं तो आप अंबेडकर को जरूर पढें.

मलाला ऐसी लड़की थी जिसकी आयु मात्र पंद्रह वर्ष थी , लेकिन तब तक वह कई ‘ अपराध ‘ कर चुकी थी । पाकिस्तान की स्वात घाटी में रहती जोजोसी ब्लॉगर थो , न्यूयॉर्क टाइम्स वीडियो में आई थी , और स्कूल जाती मलाला डॉक्टर बनना चाहती लेकिन उसके पिता Continue Reading

कल सुप्रीम कोर्ट ने वन अधिकार के विरुद्ध मुकदमे को सुना.

मामले की सुनवाई की अगली तारीख 12 सितंबर तय . आज सुप्रीम कोर्ट ने वन अधिकार कानून के खिलाफ मामलों को सुना। आज केंद्र सरकार के वकील ने बेदखली के मुख्य मुद्दे पर बहस नही की। सुप्रीम कोर्ट के सवालों के जवाब में उन्होने आज इस बात की तरफ इशारा Continue Reading

बीएसपी माइंस से निकलने वाले लाल पानी के खिलाफ लामबंदी.जन मुक्ति मोर्चा

🇧🇾🇧🇾🇧🇾 जन मुक्ति मोर्चा छत्तीसगढ़ ने BSP द्वारा दल्ली राझहरा में संचालित चारो माइंस महामाया माइंस, झरनदल्ली माइन्स, दल्ली माइंस, और राझहरा माइंस में, स्थानीय BSP प्रबन्धन के तानाशाही रवैये और BSP माइंस से निकलने वाले लाल पानी से प्रभावित किसानों को स्थाई रोजगार के मांग को लेकर आज सुबह Continue Reading

रायपुर : धारा 370 को ख़त्म करना संघी एजेंडा : वामपंथी पार्टियों का कल नागरिक-प्रतिवाद

छत्तीसगढ़ की पांच वामपंथी पार्टियों ने संविधान की धारा 370 को खत्म करने तथा जम्मू-कश्मीर राज्य को विभाजित करने के केंद्र सरकार के कदम को देश के संघीय ढांचे, लोकतंत्र, धर्मनिरपेक्षता और कश्मीरियत पर खुला हमला बताया है और इसके खिलाफ कल पूरे राज्य में नागरिक-प्रतिवाद प्रदर्शन करने की घोषणा Continue Reading

जम्मू एवं कश्मीर के बहाने संविधान का तख्तापलट. उत्तम कुमार

संपादक दक्षिण कोसल राज्यसभा में विपक्ष के विरोध के बीच राष्ट्रपति के आदेश द्वारा और दलितों की बड़ी पार्टी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के समर्थन में धारा 370 को रद्द करना और जम्‍मू एवं कश्‍मीर राज्‍य को दो केन्‍द्र शासित प्रदेशों लद्दाख और जम्‍मू में विभाजित करना भारतीय संविधान विरोधी Continue Reading