युद्ध मनुष्य के विवेक का स्थगन हैः अशोक वाजपेयी

युद्ध और शांति: नवभारत आज (03.03.2019) ‘नवभारत’ (छत्तीसगढ़-ओडिशा) के रविवारीय में डा. दीपक पाचपोर ने साक्षात्कार लिया अशोक वाजपेयी का . प्रस्तुत है ,चर्चा . प्रसिद्ध साहित्यकार-आलोचक अशोक वाजपेयी का मानना है कि युद्ध मनुष्य के विवेक और नैतिकबोध का स्थगन है. वे युद्ध को अपवित्र मानते हैं. ‘संडे नवभारत’ Continue Reading

चुनाव को जनता के मसलों से ज्यादा युद्धोन्माद के हवाले करने की कोशिश: उर्मिलेश

युद्ध और शांति: नवभारत आज (03.03.2019) ‘नवभारत’ (छत्तीसगढ़-ओडिशा) के रविवारीय में  डा. दीपक पाचपोर द्वारा उर्मिलेश जी का  साक्षात्कार . पड़ोसी मुल्क के साथ युद्ध के हालात पर प्रसिद्ध चिंतक-पत्रकार उर्मिलेश की ‘संडे नवभारत’ से लंबी बातचीत के प्रमुख अंश- ●  आजादी के बाद गाहे-बगाहे भारत-पाकिस्तान की जनता वॉर हिस्टेरिया Continue Reading

युद्ध और मनुष्य के बीच एक को चुनने का अवसर : डॉ. दीपक पाचपोर

युद्ध और शांति: नवभारत आज (03.03.2019) ‘नवभारत’ (छत्तीसगढ़-ओडिशा) के रविवारीय में प्रकाशित  मुख्य लेख लड़ाई दो तरफा होती है, एक तरफ बारूद, दूसरी ओर रोटी होती है. जिन्हें युद्ध का शौक होता है, उन्हें रोटी के जल जाने का पता नहीं चलता. क्योंकि वे हथियारों पर इतराते हैं और धमाकों Continue Reading

इतिहास : फाहियान का यात्रा विवरण: पाँचवी शताब्दी के भारत के कुछ चित्र : अजय चंन्द्रवंशी

4.03.2019 ईसा पूर्व छठी शताब्दी के धार्मिक आंदोलनों में बौद्ध धर्म का उदय एक महत्वपूर्ण घटना थी.जरूर इसके ‘उदय’ के अपने सामाजिक-आर्थिक कारण भी थें.अपने ‘समतावादी’ दर्शन के कारण इसने समाज के बड़े वर्ग को आकर्षित किया.इससेअश्पृश्य कही जाने वाली जातियों के अलावा शासक वर्ग जो क्षत्रिय थें,भी आकर्षित हुए, Continue Reading

जाने क्या है…. कोयतुर इतिहास : माखन लाल सोरी

#शंभू माई/ हजोर /बेरहा नरका ( माघ पूर्णिमा के तेरहवें दिन) जाने क्या है…. कोयतुर इतिहास शंभू सेक नरका पण्डुम को ” संभू की जागने का रात या नरका ” अर्थात् संभू की जागरण की रात को कहा जाता है। यह त्यौहार माघ पूर्णिमा से तेरह दिन बाद मनाया जाता Continue Reading

एक थे शंकरन और एक नृपेंद्र चक्रवर्ती : बिल्कुल फकीरी का जीवन .: हिमांशु कुमार .

नक्सलियों और सरकार के बीच वार्ता कराने के लिये जिस व्यक्ति ने पहल की उनका नाम शंकरन था . मैं शंकरन जी से कई बार मिला . वे बेहद नम्रता और धीरे से बोलते थे . शंकरन आईएएस थे. जब मैं हैदराबाद में उनसे मिलने उनके घर गया तो मेरे Continue Reading

8 मार्च ,अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस को रायपुर में आमसभा ,प्रदर्शन और गिरफ्तारी .: महिला अधिकार मंच

8 मार्च 2019 अंतराष्ट्रीय महिला दिवस  संघर्ष को हम सब मिलकर आगे बढाएंगे जिसके लिए सभी संघर्षशील और प्रगतिशील महिलाओं को 8 मार्च 2019 को रायपुर मे एकत्रित होने के लिए आमंत्रित करते है। ग्राउंड मे आम सभा के बाद सभी साथियों द्वारा गिरफतारी दी जाएगी। संघर्षशील महिलाओं का कूच Continue Reading

बोरगांव ,बस्तर ःः  एसी  हुई सबसे अनोखी शादी, 30 से 40 गांव के लोगों ने निभाई रस्में, जमकर झूमे.

By: Chandu Nirmalkar Feb, 18 2019  पत्रिका से साभार  बोरगांव. बस्तर हमेशा से ही अपनी आदिम संस्कृति, प्राचीन सभ्यता और आदि परंपराओं के लिए प्रसिद्ध रहा है। आधुनिकता की इस चकाचौंध में भी यहां के निवासियों ने अपनी प्राचीन और गौरवशाली परंपरा को कायम रखे हुए हैं। यहां के लोग अपने खान-पान Continue Reading