खरसिया में मूलनिवासी सर्वसमुदाय की महापंचायत ,रैली ,आमसभा -आज .

2.11.2017

आज खरसिया में मूलनिवासी सर्वसमुदाय का एक विशाल महापंचायत रखा गया है ।इस महापंचायत में आदिवासी, दलित , अल्पसंख्यक और पिछड़े तबके के लगभग पंद्रह हजार लोग प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से एकजुट हो रहे हैं । इस महापंचायत में पांचवी अनुसूची के प्रावधान, कुनकुनी में आदिवासी जमीन हड़प औए रेलवे कोल साइडिंग मामला, आदिवासी जमीनों पर गैर आदिवासियों का व्यापक अंतरण और आवैधानिक कब्ज़ा, सबल सामाजिक तस्करों के इशारे पर मूलनिवासियों के खिलाफ फ़र्ज़ी मुकदमे, हाल में गणेश विषर्जन के दौरान पुलिस प्रशाशन का सौतेला व्यवहार आदि प्रमुख हैं । उल्लेखनीय है कि गत रात्रि से ही राज्य ने पूरे आयोजन स्थल को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया है, और रात्रि 2.30 बजे से ही प्रमुख आयोजकों को पुलिस निगरानी में रखते हुए थाने में बैठा दिया गया है, कल शाम आयोजकों में से एक के घर के दिवार पर इस कार्यक्रम हेतु अनुमति नहीं देने का फरमान चस्पा कर दिया गया है।

राज्य शासन वंचित समुदायों के सभा के रूप में एकत्र होने से रोकने आयोजन स्थल तक जाने बेरिकेट्स लगा दिए हैं,औऱ पुलिस ने भी तगडा घेराबंदी कर रखा है । राज्य का यह दमनकारी रवैया वंचित समुदायों में भारी आक्रोश और तनाव का कारण बनता जा रहा है ।

डिग्री प्रसाद चौहान की रिपोर्ट 

***

Leave a Reply