आजीवन कारावास की सज़ा प्राप्त पांच कैदियों को शासन ने किया रिहा : बिलासपुर जेल .

29.10.2017
*
सेंट्रल जेल बिलासपुर में कल आजीवन कारावास की सज़ा काट रहे पांच कैदियों को बीस साल की सज़ा होने पर कोर्ट के अनुमोदन के बाद राज्य शाशन ने रिहा करने के आदेश दिए ,जिसके अनुसार पांचों को कल शाम जेल से रिहा कर दिया गया .
पिछले दिनों जन संगठन की पिटीशन पर छतीसगढ़ हाईकोर्ट ने इस बाबत निर्देश राज्य सरकार को दिये थे .केन्द्रीय जेल बिलासपुर ने हत्या के मामले मे आजीवन कारावास की सज़ा काट रहे एसे बंदीयों की रिहाई का प्रस्ताव जेल मुख्यालय भेजा था ,जिन्हें जेल मैं बीस साल से ज्यादा हो गया है.
राज्य शासन ने शनीवार को भेजे गये आदेश मे मुकेश पिता मैनू दास ,अजोरी पिता घुरऊ, रामसिंह पिता दुकालू ,सुंदर पिता थान सिंह और प्रभु लाल पिता थान सिंह को शनिवार की देर रात को रिहा कर दिया .अभी तक बिलासपुर से 68 कैदी रिहा किये जा चुके है,.
जगदलपुर लीगल एड ग्रुप और अन्य संघटन पिछले कई महीनों से इस के लिए प्रयासरत है कि जेलों से ऐसे कैदी जो अपनी सज़ा के 20साल पूरे कर चुके है उन्हें शाशन की
नीति के अनुसार रिहा होने का अवसर प्राप्त हो .अभी भी छतीसगढ़ की विभिन्न जेलों मे पात्रता प्राप्त कैदी भरे पड़े है जिन्हें रिहा हो जाना चाहिये था .
इस सम्बंध में पिछले दिनों जेल डीआईजी केके गुप्ता से रायपुर में विस्तार से चर्चा भी की गई थी ,,.
***

Leave a Reply

You may have missed