रायपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का विशाल प्रदर्शन . दस सूत्रीय मांगों के लिए .

रायपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का विशाल प्रदर्शन . दस सूत्रीय मांगों के लिए .

रायपुर ,11 अक्टुम्बर

*

आज रायपुर के बूढा तालाब धरना स्थल पर हजारों की संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया ,.

सहायिका संयुक्त संघर्ष समिति के नेतृत्व में प्रगतिशील आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ, छत्तीसगढ़ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका के नेतृत्व में इतनी बडी सँख्या में महिलाएँ एकत्रित थी , इसका अनुमान प्रशाशन को भी नही था

आंगनबाड़ी संघ का कहना है कि केंद्र सरकार ने आई.सी.डी.एस के केंद्रीय बजट में भारी कमी करते हुए साल 2013-14 में जो 27700 करोड़ रुपये था उसे 2017-18 में कम करने से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ का मानदेय बल्कि बच्चों के मिलने वाला पोषणआहार की क्वालिटी में बहुत गिरावट आ गई है।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांगे निम्न हैं कि
उन्हें शासकीय कर्मचारी घोषित कर सहायक एव आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का वेतन 02 हजार व 04 हजार रुपये से बढ़ाकर न्यूनतम वेतन 15 से 18 हजार रुपये किया जाये।
,सेवानिवृत्त होने पर गुजर बसर हेतु महाराष्ट्र सरकार की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी कार्यकर्ताओं को 01 लाख रुपये तथा सहायिकाओं को 75 हजार रुपये किया जाये।
, उनके ड्रेस कोड की बाध्यता समाप्त की जाये।
,हेल्पर को कार्यकर्ता बनाने के लिए सेवा अवधि 05 वर्ष तय हो तथा उम्र की सीमा हटा कर 50 प्रतिशत कोटा सहायिकाओं को दें, कार्यकर्ताओं को सुपरवाइजर बानेत समय उम्र की सीमा हटाई जाये,मिनी आंगनबाड़ी केंद्र को पूर्ण आंगनबाड़ी केंद्र में तब्दील किया जाये,केंद्र सरकार द्वार दी जाने वाली 20 दिनों की आकस्मिक छुट्टी छत्तीसगढ़ सरकार भी लागू करे और वार्षिक महंगाई भत्ता दिया जाये
**

CG Basket

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

फोर्स द्वारा सामूहिक बलात्कार के खिलाफ , पिछले 24 घण्टे से जगदलपुर-विशाखपट्नम रेल और सड़क मार्ग बाधित :ग्रामीणों ने किया है मार्ग बंद.

Wed Oct 11 , 2017
14 साल की नाबालिग लड़की के साथ बीएसएफ जवानों ने सामूहिक बलात्कार किया, प्रशासनिक कार्यवाही अब तक शून्य, ग्रामीणों में […]

You May Like