अभी जश्न मनाने का समय नहीं है │ रायगढ़ की आम जनता और छत्तीसगढ़ के किसान जीवन और मौत से जूझ रहे हैं -रायगढ़

अभी जश्न मनाने का समय नहीं है │ रायगढ़ की आम जनता और छत्तीसगढ़ के किसान जीवन और मौत से जूझ रहे हैं -रायगढ़

डॉ. रमन सिंह  का 12 अक्टूबर को रायगढ़ आगमन हो रहा है │ 23 से ज्यादा जनसंगठनों के साझा मंच जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा रायगढ़ ने  मुख्यमंत्री के रायगढ़ आगमन को काफी महत्वपूर्ण मानते हुए बहुत गंभीरता से लिया है │

यह यात्रा ऐसे समय पर हो रही है जब समूचा रायगढ़ डेंगू के महाप्रकोप और प्रदुषण की खतरनाक उच्चतम सीमा को पार कर हाई डेंजर जोन में आ गया है │ जन-जीवन खतरे में पड़ गया है │ जनता दहशत में है │ स्वास्थ्य चिकित्सा व्यवस्था, निगम प्रशासन एवं शासन पूरी तरह से ठप तथा व्यवस्था चरमराई हुई है │

आज दिनाँक तक शासन ने डेंगू जाँच की मशीन की व्यवस्था नहीं की है │ जाँच रिपोर्ट के शुल्क पर कोई नियंत्रण नहीं है │ गरीब जाए तो कहाँ जाए ? किसान सूखे और कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या करने के लिए विवश हो रहे हैं तथा गंभीर व जटिल परिस्थितियों पर, ऐसे नाजुक समय में माननीय मुख्यमंत्री जी शायद बोनस तिहार मनाने आ रहे हैं │ ये बोनस त्यौहार छत्तीसगढ़ का बहुत ही अदभुत और महत्वपूर्ण तिहार है │ जो पाँच साल में एक बार आता है │ वह भी चुनाव के समय │ इसके लिएव मौतें, समस्याएं, सूखा, बाढ़, संकट, जीवन – मरण, कुछ भी महत्व नहीं रखता है │

जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा ने इसे घोर असंवेदनशील, अमानवीय, आम जनता तथा किसानों के जीवन के साथ बहुत बड़ा मजाक बताया है │ मोर्चा ने  मुख्यमंत्री की इस पर गंभीर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि – अभी जश्न मनाने का समय नहीं है │ रायगढ़ की आम जनता और छत्तीसगढ़ के किसान जीवन और मौत से जूझ रहे हैं │ आज सबसे बड़ी चुनौती है कि – उनके जीवन को कैसे बचाया जाए ? रायगढ़ सांसद  जो केन्द्र सरकार में मंत्री है उनका तो अता-पता भी नहीं है ! और  मुख्यमंत्री त्यौहार मनाने आ रहे है │ आखिर यह कैसा प्रशासन है ? कैसी राजनीति है ?

जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा ने  मुख्यमंत्री कहा है कि आप रायगढ़ आएं पर सादगी के साथ तथा डेंगू से जीवन बचाने के लिए डेंगू जाँच मशीन प्राथमिकता के तौर पर उपलब्ध कराएं │ शासकीय अस्पतालों सहित निजी अस्पतालों में डेंगू मरीजों की जाँच रिपोर्ट हेतु न्यूनतम शुल्क एवं समुचित चिकित्सा व्यवस्था उपलब्ध कराने हेतु शासकीय नियंत्रण एवं दिशा निर्देश जारी कर पूरी सुगम व्यवस्था को सुनिश्चित करें │ रायगढ़ को डेंगू और प्रदूषण मुक्त जिला बनाने हेतु ठोस, सार्थक कार्ययोजना बजट एलाटमेंट के साथ कर घोषणा करें │
23 से ज्यादा जनसंगठनों के साझा मंच के सहयोगी जनसंगठनों के साथीगण सर्व श्री शिवशरण पांडेय वरिष्ठ वाम पंथी नेता, मुमताज भारती, बासुदेव शर्मा सचिव, कैलाश अग्रवाल समन्वयक जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा, पी.एस.पंडा शिक्षाविद पड़ीगांव, गणेश कछवाहा ट्रेड यूनियन कौंसिल रायगढ़, के.के.एस. ठाकुर सीनियर सीटीजन एसोसिएशन, विष्णु सेवक गुप्ता लीगल राईट फोरम, महादेव प्रसाद अग्रवाल, बी.आर. चैनी छ.ग. पेंशनधारी कल्याण संघ, रघुवीर प्रधान एकता परिषद्, पी.एस. खोडियार शिक्षाविद, जयप्रकाश अग्रवाल, मेवालाल जोगी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी उत्तराधिकारी संघ, टी.के.घोष पूर्व पदाधिकारी ऑल इंडिया बैंक एम्प. एसोसिएशन, के.आर. यादव, मदन पटेल पूर्व पदाधिकारी अ.भा. डाक कर्म. संघ, गणेश मिश्रा पूर्व रेंजर, लम्बोदर साव किसान सभा, तपन बनर्जी, श्याम जायसवाल सी पी एम, गुरुमीत घई पीपुल्स फॉर इंडिया, अनीता नायक, काजल विश्वास छ.ग. आंगनबाड़ी सहायिका कार्यकर्ता संघ, ब्रजेश नंदे एम.पी.एम.एस.आर. यूनियन, अमर गुप्ता, सामाजिक कार्यकर्ता, नीलकंठ साहू सदभावना सांस्कृतिक सेवा समिति, एन.आर. प्रधान शिक्षाविद लोईंग, राजेश कश्यप.

छ.ग. नागरिक पहल ने रायगढ़ की माटी , अपनी धरती, और छत्तीसगढ़ को दिलो जान से प्यार करने वाले नागरिकों से विनम्र अपील करता है कि – दलगत राजनीति से ऊपर उठकर अपनी, मिट्टी, अपनी धरती, छत्तीसगढ़ तथा जन जीवन को बचाने, आने वाली पीढ़ी, बच्चो के भविष्य, बुजुर्गो के जीवन की रक्षा के लिए एक जुट होकर आगे आये और यदि 12 अक्टूबर तक मुख्यमंत्री व्दारा रायगढ़ को डेंगू और प्रदूषण मुक्त जिला बनाने, की ठोस कार्य योजना की घोषणा नहीं की जाती है तो वे अपना मुखर प्रतिरोध सोशल मीडिया, समाचार पत्रों, लेखों एवं अन्य माध्यमों से दर्ज करे │

**
गणेश कछवाहा
जिला बचाओ संघर्ष मोर्चा
रायगढ़ छ.ग.

CG Basket

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account