बेरला सामूहिक.बलात्कार घटना की जांच रिपोर्ट : महिला मुक्ति मोर्चा .

  1. 1.10.2017

दुर्ग जिला के बेरला में सामूहिक बलत्कार की
घटना हुई थी , उसकी जांच केलिये महिला. मुक्ति मोर्चा एक दल बेरला गया था .
जिसमें यह पता चला कि पीडिता की रिपोर्ट बेरला टी आई ने नहीं लिखी , लड़की को थाने में धमकी दिया कि सामूहिक बलात्कार मत लिखाना अकेले का लिखा ,घटना राखी त्योहार के दिन का है इस घटना का विरोध 10 गांव के लोगों ने किया था .
बारगांव, मटीया, मुडपार, देवरी, सिंवार, कांग्रेस का धरना चल रहा था वहां भाजपा के लोग गये और दोनो पार्टियों के बीच कहा सुनी हुआ और वह झगड़े में तब्दील हो गया उसी का आड लेकर बल्तकार का विरोध करने आए लोग जो अलग जगह पर बैठे थे उनके उपर पुलिस लाठी चार्ज करना शुरू कर दिया जिसमें भाजपा के गुंडे भी शामिल थे जबरन लाठी चार्ज को देखकर ग्रामीण गुस्से में आये और महिलाएं पुलिस को खदेड़ा टीआई को मारने वाले भाजपा के गुंडे है ।
लेकिन आरोप ग्रामीणो पर है पुलिस गांव गांव में घर घर में घुंस कर महिलाओं को अभद्र गाली गलोच किया है आधी रात को परेशान किया है अभी तक 85 लोग जेल में है .मुख्य अभियुक्त होरी लाल वह जेल में बंद ग्रामीणो को धमकी दे रहा है ,छुटने केबाद दुबारा घटना करूंगा जेल में होरी लाल को विशेष खाना बाहर से मंगा कर दिया जाता है क्योंकि वो किसी मंत्री के ताकत पर यह सब करता है गावों में अभी दहशत का माहौल है ,धारा 307 लगा है ग्रामीणो के उपर जेल में पुरूष लोग बंद है पुलिस ने धमकी दिया है कि जितने महिला का फोटो हमारे पास है उन सब महिलाओं को दशहरा के बाद उठाया जायेगा .

ग्राम के एक महिला कांती बाई गौटनीन ने कलेक्टर से जाकर गोहार लगाई कि हमारे लड़की के उपर बल्तकार हुआ है और हमारे महिलाओं को गिरफ्तार करने का धमकी दे रहा है कलेक्टर साहब एसा मत करिये .

थाने के अन्दर टि आई के सामने होरी लाल की मां ने पिडीता की मां से बोला केस वापस ले लो तो तुमको दो लाख देंगे, बलात्कार के समय तुम्हारा गहना लुटे है उसका दोगुना गहना खरीद के दुंगी ,अभियुक्त अवैध शराब बेंचता था जिसका पुलिस संरक्षण था बलत्कारी होरी लाल के करतुत से आस पास गांव के लोग परेशान थे भाजपा का खुलेआम बलत्कारी को समर्थन है .पिडीता के कका ससुर और देवर को भी जेल में ऱखे हैं बारगांव के सरपंच को भी जेल में बंद रखा है .

पिडीता और पिडीता के सांथ में जो उनके भाई थे उनके मोबाइल और मोटरसाइकिल को पुलिस ने जब्त कर लिया है
पिडीता घटना के दिन बेरला हास्पिटल अपने बहन को देखने गई थी बेरला से मोटर साईकिल में भाई के साथ 6.30 बजे घर के लिए निकली तो बारगांव वाले रास्ता में फार्म हाउस में रोककर सीधा. फार्म हाउस में अंदर ले गया बलात्कारी पीडीता को बोला कपडा उतारो पीडीता कपडा नहीं उतारी तो बेल्ट से बहुत मारा फिर बल्तकारी लोग कपडा उतार कर बारी बारी से बल्तकार किया ,पिडीता के भाई को रस्सी से पेड में बाध दिया पिडीता बताई कि मुझे दारू जबरदस्ती पिला कर बेहोश कर दिया ,फार्म हाउस में निर्वस्त्र विडियो बनाकर बोले कि 10.000 दो तो ये विडियो डिलीट कर देंगे .
8 बजे से शाम से घटना शुरू हुआ रात 1 बजे तक चला फिर 1,30 बजे पिडीता और भाई बेरला थाना गये रिपोर्ट लिखवाये पुलिस ने बार बार धमकी सामूहिक बलात्कार हम नहीं लिखेगे तो डर के मारे एक आदमी का नाम लिखाई पिडीता का उम्र 35 है 4 बच्चे हैं

महिला मुक्ति मोर्चा के जांच दल मैं उर्मिला ,नीरा ,निकिता ,सावित्री और कलादास डेहरिया शामिल थे .
****

Leave a Reply

You may have missed