किसानो के अन्न और तन पर हो रहे सरकारी हमलो के खिलाफ *जन प्रतिरोध* रैली व आमसभा का आयोजन

  1. *दिनांक 27/09/2017*
    *जन प्रतिरोध रैली*

 

जन मुक्ति मोर्चा (छ.ग.) द्वारा मेंहनतकश मजदूर-किसान, छात्र, महिलाए और बेरोजगार नौजवानो के हक-अधिकार के लिए आजीवन संघर्ष करने वाले व संघर्ष के अपने जमीनी अनुभव के आधार पर विकसीत *संघर्ष और निर्माण* के नये राजनीतिक सिद्धांत और दर्शन से समुचे विश्व को परिचित कराने वाले, *नये भारत के लिए सुंदर और शोषणमुक्त छत्तीसगढ़* के स्वप्नदृष्टा, मेंहनतकश मजदूर-किसान के एकता की प्रतिक *लाल-हरा ध्वज* की स्थापना करने वाले शहीद कॉ. शंकर गुहा नियोगी जी के शहादत की स्मृति में प्रति वर्ष आयोजित किये जाने वाले 7 दिवसीय *शहीद सप्ताह* के 6 वे दिन, आज दिनांक 27/09/2017 को अन्नदाता किसानो के अन्न और तन पर हो रहे सरकारी हमलो के खिलाफ *जन प्रतिरोध* रैली व आमसभा का आयोजन किया गया।

पुरे भारत में पूंजीवाद समर्थक सरकारो के किसान विरोधी नीतियो के कारण अन्नदाता किसान लगातार आत्महत्या कर रहे है, बजट में कृषि क्षेत्र के हिस्से में कटौती, कृषि संसाधनो के मुल्यो और लागत में बढ़ोतरी, कृषि उत्पाद के मुल्यो को कम रखने के कारण आब छत्तीसगढ़ के अन्नदाता भी लगातार आत्महत्या कर रहे है,दूसरे तरफ सरकार और उसकी मशनीरी किसानो के आत्महत्या पर बेशर्मी पूर्वक लिपापोती करने में लगी हुई है।

किसानो द्वारा लगातार मांग करने के बावजुद बड़े बांधो का पानी किसानो को नही दिया जा रहा है, हर खेत तक पानी नही पहुचाया जा रहा है, धान का समर्थन मुल्य बढ़ाया नही जा रहा है, स्वामीनाथन कृषि आयोग के रिपोर्ट को लागू नही किया जा रहा है, प्रत्येक तहसील में कृषि आधारीत लघु उद्योगो की स्थापना नही किया जा रहा है, कृषि और कृषको के विकास के लिए ईमानदारी पूर्वक योजना लागु नही किया जा रहा है उल्टे केन्द्र सरकार अब कृषि को को भी पूंजीपतियों के हवाले करने के लिए *कांट्रेक्ट खेती ( ठेका खेती)* की योजना लागु करने की दिशा में काम कर रही है।इस तरह से सरकारे किसानो को पूंजीपतियो का *बंधुआ मजदूर* बनाने की पुरी तैयारी किए बैठी है।

सरकार के इस किसान विरोधी नीतियो का विरोध कर रहे किसानो पर सरकारे गोलीया चलाकर, अवैध रुप से जेल में डालकर किसानो की आवाज को दबाने की लगातार कोशिश कर रही है।

 

जन मुक्ति मोर्चा (छ.ग.) केन्द्र और राज्य सरकारो के किसान विरोधी नीतियो और दमनकारी कार्यशैली की घोर निंदा करती है व छत्तीसगढ़ के अन्नदाता किसानो से आह्वान करती है की शहीद कॉ. शंकर गुहा नियोगी जी के क्रांतिकारी विचार *कमाने वाला खायेगा, लुटने वाला जायेगा* को आत्मसात कर किसान विरोधी लुटेरी और दमनकारी व्यवस्था को जड़ से खत्म करने *संघर्ष और निर्माण* के राह पर कुर्बानी की भावना से ओत प्रोत होकर बढ़ते चले, इसी में मेंहनतकश किसान-मजदूर का मुक्ति संभव है।

आज के जन प्रतिरोध रैली में जन मुक्ति मोर्चा बालोद जिला, राजनांदगांव जिला, कांकेर जिला, दुर्ग जिला के मजदूर-किसान, विद्यार्थी, महिलाए, बेरोजगार नव जवान व जन खदान श्रमिक संघ, प्रगतिशील ग्रामीण शिक्षा समिति, नवजनवादी लोक सांस्कृतिक मंच नवा बिहान, नव जनवादी छात्र संगठन, जन साहित्य परिषद्, शहीद सुदामा स्पोर्ट्स क्लब के पदाधिकारी, कार्यकर्ता, सदस्यगण हांथो में *लाल हरा* ध्वजा लिए पुरे नगर का भ्रमण करते हुए नये बस स्टैंड स्थीत शहीद शंकर गुहा नियोगी चौक में आम सभा के रुप में परिवर्तित हुए ।

*लाल जोहार….शहीदो को लाल सलाम*

*भवदीय*

*कॉ. यादराम कोर्राम*
*ब्लाक अध्यक्ष-दल्ली राजहरा*
*जन मुक्ति मोर्चा,छत्तीसगढ़*

CG Basket

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बस्तर में दो धारी तलवार पर काम कर रहे पत्रकार, नक्सली व सुरक्षाबल दोनों के निशाने पर.

Thu Sep 28 , 2017
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email हिंदुस्तान समाचार * जगदलपुर, 27 सितम्बर (हि.स.) बीजापुर में सुरक्षाबलों का एक ऐसा आडियो हाँथ लगा है जिसमे सुरक्षा बलों ने वायरलेस सेट में पत्रकारों के लिए सीधे डेथ वारंट जारी कर जान से मार देने का […]

Breaking News