आज़ किसान इतिहास रचेंगे रायपुर पहुंचकर ।

आज़ किसान इतिहास रचेंगे रायपुर पहुंचकर ।

कांकेर में 20 हजार  किसान कल कलेक्ट्रेट पहुचे और पुलिस के भारी अड़चनों के बाबजूद प्रदर्शन किया, पूरे राज्य में धारा 144 लगा कर और किसानों को गिरफ्तार किया गया है,गांव और प्रमुख शहरों को बेरिकेट्स से टोक दिया गया है ,चुन चुन कर किसान नेताओं को घर घर मे रोका जा रहा है , सम्भावना  यह भी है कि उन्हें कल घरों से ही निकलने न दिया जाए .

कल रात किसान नेता संकेत ठाकुर ने अपील जारी की ,कि कल 21 सितम्बर को छत्तीसगढ़ के किसान इतिहास रचेंगे रायपुर पहुंचकर ।
सरकारी दमन का एकमात्र जवाब है हमारी अधिकाधिक संख्या में उपस्थिति  हम परवाह ना करें, रायपुर पहुचने की, मुख्यमंत्री निवास तक पहुचने की ।हमारा लक्ष्य राज्य सरकार को अपनी ताकत दिखाना है ।

हम या तो घेराव करेंगे या पुलिस हमे घेरेगी, साथियों दोनों ही परिस्थिति में जीत हमारी ही होगी ।
कल हम हर हालत में रायपुर के बूढ़ातालाब स्थित धरना स्थल पहुंचने का पूरा प्रयास करें ।
रास्ते में यदि गिरफ्तार होते है, तो कोई परवाह नहीं ।

वही दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ बचाओ आंदोलन के संयोजक आलोक शुक्ला ने प्रेस कॉंफ्रेंस  करके बताया की किसान संकल्प यात्रा को प्रशासन ने शुरू ही नही होने दिया  दमन के सारे हथकंडे अपनाये गये , सबसे पहले सरकार किसान नेताओं को रिहा करे उसके बाद बैठकर निर्णय करेंगे और पूरे प्रदेश में राजनांदगांव केंद्रित किसान आंदोलन संगठित किया जाएगा ।

किसानों का आंदोलन अब इतिहास रचेगा ।

जय किसान

CG Basket

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account