भारी खर्च ,भारी डाक्टर गरीब क्या करें.

भारी खर्च ,भारी डाक्टर गरीब क्या करें.
****
छत्तीसगढ़ में निजी  मेडिकल काँलेज में ग्रेजुएशन की फीस इस साल  पांच लाख अठारह हजार बढी ,अब छात्रों को 25 लाख देने होंगे अपनी पढाई के लिये .
यह सब तय हुआ है स्वास्थ्य सचिव की अध्यक्षता में.
फीस की बढोत्तरी का कोई अनुपात है किसी के पास सिवाय इसके कि देश के कई काँलेज दो करोड़ तक फीस ले रहे है ,बिना किसी मैरिट के एडमीशन लेने के लिये.
जब बिना किसी मैरिट ,इतनी फीस ,और भारी संसाधन लगा के डाक्टर बनेंगे तो वही न करेंगे जो आजकल निजी अस्पतालों में कर रहे है .
***

Leave a Reply