चीन-महाराष्ट्र सरकार के बीच 15000 करोड़ का MOU हुआ

चीन-महाराष्ट्र सरकार के बीच   15000 करोड़ का MOU हुआ

Tuesday, October 18, 2016
सीजी खबर से साभार

नागपुर | विशेष संवाददाता: चीन के साथ सरकार ने 1,500 करोड़ का समझौता किया है. नागपुर मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड तथा चीन की कंपनी चीन रेलवे स्‍टॉक कॉर्पोरेशन के बीच 16 अक्टूबर को 1,500 करोड़ रुपयों के समझौते पर हस्ताक्षर हुये हैं. जिसके तहत चीन रेलवे स्‍टॉक कॉर्पोरेशन नागपुर में भारत की पहली मेट्रो रोलिंग स्‍टॉक मैनुफैक्‍चरिंग यूनिट लगायेगी. चीनी कंपनी के साथ महाराष्ट्र सरकार का यह समझौता 16 अक्टूबर को नागपुर के वर्धा रोड स्थित रेडिसन ब्लू हॉटल में शाम के 6.30 बजे हुआ.

दरअसल, नागपुर मेट्रो रेलवे कॉर्पोरेशन लिमिटेड भारत सरकार तथा महाराष्ट्र सरकार का संयुक्त उपक्रम है. वहीं, चीन रेलवे स्‍टॉक कॉर्पोरेशन इलेक्ट्रिक लोको‍मोटिव्‍स और मेट्रो व्‍हीकल्‍स के मामले में चीन की सबसे बड़ी रिसर्च और उत्‍पादन कंपनी है.

इस निवेश से 5,000 रोजगार संभावनाएं पैदा होने की उम्‍मीद है. मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फणनवीस का गृह जिला और महाराष्‍ट्र की दूसरी राजधानी, नागपुर सबसे बड़े मेट्रो कोच मै‍नुफैक्‍चरिंग सेंटर्स में से एक होगा, जिसकी सेवाएं पुणे और मुंबई को भी मिलेंगी.

चीनी फर्म नागपुर मेट्रो के लिए 69 कोच उपलब्‍ध करायेगी. मेट्रो का करीब 65 प्रतिशत हिस्‍सा सोलर एनर्जी से चलेगा, जिसके लिए बुनियादी ढांचा तैयार किया जा रहा है.

एक साल पहले, अपनी चीन यात्रा के दौरान मेक इन इंडिया और मेक इन महाराष्‍ट्र पहल के तहत, मुख्‍यमंत्री ने चीन रेलवे स्‍टॉक कॉर्पोरेशन को नागपुर में मैनुफैक्‍चरिंग यूनिट लगाने की संभावनायें तलाशने का न्‍योता दिया था.

***

Leave a Reply

You may have missed