धमतरी में एक किसान  संतराम ने और की आत्महत्या

धमतरी 12 जुलाई 2017

क़र्ज़ के बोझ तले किसान संतराम हिरमानी ने बुधवार को फाँसी लगा कर आत्महत्या कर ली ,इससे पहले कुरूद ब्लोक के बगदेही के किसान चंद्रहास हिरवानी ने भी खुदकशी कर ली थी . धमतरी से २७ किलो मीटर दूर भाखरा के अमलीडीह निवासी संतराम की 4 बेटियों की शादी हो चुकी हैं ,बेटा रायपुर की किसी कंपनी में काम करता हैं .बुधवार दोपहर करीब 12 बजे उनकी पत्नी सावित्रीं ने जानवरों के तबेले में संतराम को फाँसी में लटके देखा .संतराम के बड़े भाई हरिराम हिरवानी ,हसदा निवासी मित्र खामेंद्र हिरवानी ,और पत्नी सावित्री ने बताया की संतराम पर 10 लाख रुपये का क़र्ज़ था .उसमे तीन बेंक ,साहूकार ,कृषि दावा बिक्रेता और गाँव के एक जनप्रतिनिधि से क़र्ज़ लिया था ,\.

8 जुलाई को लोक अदालत की पेशी में एक बेंक ने उसपर केस भी कर दिया था .जिसमे समझोता नहीं हो पाया था,लोक अदालत में साथ गए उनके मित्र डोमन लाल में बताया की वो वहां से आने के बाद संतराम परेशान रहने लगा था .कुछ दिन पहले क़र्ज़ बसूली करने उसके घर बेंक के लोग भी गए थे,

परिजनों ने यह भी बताया की उसने 10 लाख का क़र्ज़ पटाने के लिये 2 एकड़ जमीं भी बेच दी थी ,

लेकिन पूरा क़र्ज़ पटाने के लिये उसपर दबाब था जिससे वह भारी परेशानी में था .

**

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply