कोर्ट में जाओ बीस साल तक केस लडना ,रायगढ पुलिस

रायगढ़ – ऍफ़ आई आर कराने शेष पीड़ित पुनः अजाक थाना पहुंचे .

कोर्ट में जाओ बीस साल तक केस लडना ,रायगढ पुलिस
**

30जून 2017 को भेंगारी, खोखरोआमा और कटंगडीह के टी आर एन और महावीर कोल बेनिफिकेशन कंपनी प्रभावित 10 पीड़ित आदिवासियों के द्वारा अ जा ज जा कल्याण थाना को दोषियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कराने आवेदन दिया गया है ।
डी एस पी वीरेंद्र शर्मा ने आवेदन ले लिया है, लेकिन स्पष्ट रूप से पीड़ितों को कोर्ट में जाने को कहा है ।ग्रामीणों द्वारा पूर्व में सौंपे गए आवेदन पर कार्यवाही के दौरान जांचकर्ता पुलिस अधिकारियों द्वारा पीड़ितों के बयान जस के तस नहीं लिखने का बात भी उठाया गया और साथ ही 14 जून को अतिरिक्त पुलिस अधिकारी द्वारा 15 दिनों के भीतर कार्यवाही पूर्ण करने के आश्वासन का याद दिलाने पर डी एस पी ने ललित कुमारी जजमेंट के अनुरूप छह सप्ताह तक का समय कहा है ।
समय सीमा बढ़ाने के कारण पूछने और डेली डायरी दिखाने तथा उसकी प्रति पाने सूचना अधिकार के तहत विधिवत प्राप्त करने की बात कहने पर इसे गोपनीय दस्तावेज कहकर देंने से इंकार कर दिया ।
तांमनार के कोसमंपाली सारसमाल में वनाधिकार व्यक्तिगत पट्टों पर जबर्दस्ती खुदाई मामले में अपराध दर्ज करने संबंधी चर्चा में डी एस पी ने बताया कि उस जमीन को सरकार ने बहुत पहले से जिंदल को आबंटित किया है, इसलिए ऍफ़ आई आर नहीं हो सकता कहा है ।
पुरे डेढ़ घंटे की गतिविधि के दौरान शर्मा ने कम से कम 10 बार सरपंच सहित उपस्थित ग्रामीणों को द प्र सं की धारा 155 के तहत कोर्ट की शरण में जाने और 20 साल तक सिविल केश लड़ने को कहा है।
**

Leave a Reply

You may have missed