भूपेश बोले – कल्लूरी से बस्तर की बहू-बेटियां नहीं है महफ़ूज

भूपेश ने बस्तर IG कल्लूरी से किया हिसाब चुकता .

¤ भूपेश बोले – कल्लूरी से बस्तर की बहू-बेटियां नहीं है महफ़ूज

¤ लगाया आरोप- हत्या व बलात्कार के दोषी को IG  बना दिया

¤ बस्तर आईजी कल्लूरी के आगे खड़े हुए होम मिनिस्टर पैकरा

¤ रामसेवक पैकरा बोले- जिसके चलते सरगुजा नक्सल मुक्त..उसके पीछे पड़ा विपक्ष

रायपुर, 18 नवंबर 2016। विधानसभा में शुक्रवार को भूपेश बघेल ने बस्तर आईजी एसआरपी कल्लूरी से अपना पुराना हिसाब चूकता कर लिया। बघेल ने कल्लूरी पर ऐसे विष बूझे तीर छोड़े कि पूरा सदन सकते में था। राज्य बनने के बाद विधानसभा में ऐसे गंभीर आरोप किसी अफसर पर नहीं लगे थे। भूपेश ने कहा कि कल्लूरी से बहू-बेटियां सुरक्षित नहीं है। कल्लूरी जहां भी पोस्टेड रहे, महिलाओं पर अत्याचार बढ़ा। दरअसल, ताड़मेटला कांड में कल्लूरी ने बघेल को चुनौती दी थी कि उनके हटने से बस्तर से नक्सलवाद खतम हो जाएगा तो मैं 24 घंटे के भीतर बस्तर छोड़ दूंगा। इसके बाद से कल्लूरी भूपेश के राडार पर थे। लिहाजा, यह पूर्वानुमान तो सबको था कि कल्लूरी भूपेश के टारगेट में रहेंगे मगर इतना अधिक….सदन दंग था।

नियम 139 की चर्चा में  भूपेश ने कहा कि मड़कम हिड़मे, मीना खलको प्रकरण में सदन में चर्चा के बाद भी अपराधी खाकी वर्दी में घूम रहा है। बस्तर में सुरक्षा बलों ने जो किया बयां तक नहीं किया जा सकता…सुरक्षा बल घरों से लूट रहे हैं….महिलाओं के साथ प्रताड़ना लगातार हो रही है….भूपेश बघेल ने बस्तर आईजी की भूमिका पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि एक अधिकारी के शह पर प्रताड़ना की जा रही है….बस्तर में आईजी एसआरपी कल्लूरी के शह पर अपराध बढ़ रहा है…ऐसे अधिकारी पदस्थ होंगे तो बहू-बेटियां सुरक्षित नहीं होंगी….ऐसे अधिकारियो को जेल के सीखचों में भेजना चाहिए….कांग्रेस ने कहा कि सीबीआई ने माना है कि ताड़मेटला में सुरक्षाबलों ने आगजनी की थी……विधायक देवती कर्मा ने पीड़ित परिवार का साथ दिया तो उन्हें धमकाया गया….उनके खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया जा रहा है……भूपेश ने सदन के बाहर मीडिया से मुखातिब होते हुए आईजी कल्लूरी पर गंभीर आरोप लगाते हुए रेप का आरोपी बताया….और कहा कि उनपर 302 और 376 का मामला दर्ज है। भूपेश ने 2010 में आये कोर्ट से जजमेंट के दस्तावेज मीडिया के सामने लहराते हुए कहा कि जो कुछ उन्होंने आरोप लगाया…वो पूरे प्रमाण के साथ लगाया है। कोर्ट में दर्ज बयान के सबूत उनके पास मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि जो हत्या व बलात्कार का दोषी है..उसे प्रमोशन देकर आईजी बना दिया गया है। महिलाओं के खिलाफ अत्याचार और उत्पीड़न पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने विधानसभा में सरकार पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि प्रदेश में सरकारी आंकड़ों के अनुसार बलात्कार और अनाचार के 4687 प्रकरण, अपहरण के 6425 प्रकरण, छेड़खानी के 5181 प्रकरण, शारीरिक प्रताड़ना के 3207 प्रकरण, आदिवासी अनाचार के 866 प्रकरण, युवतियों एवं महिलाओं को अन्य राज्य में ले जाकर बेचे जाने के 16 प्रकरण, हत्या के 2942 प्रकरण, हत्या के प्रयास 2079 प्रकरण, डकैती के 215 मामले दर्ज हुये है। भारतीय महिलाओं में बर्दाश्त करने की क्षमता होती है परंतु पानी जब सर से ऊपर हो जाये तो वे सामने आती है, मतलब इस शासकीय आंकड़ो से भी कही ज्यादा अपराध  महिलाओं को लेकर घटित हुआ है।

गृह मंत्री रामसेवक पैकरा ने बस्तर आईजी शिवराम प्रसाद कल्लूरी का जमकर बचाव किया। गृह मंत्री ने विपक्ष के आरोपों पर कड़ा जवाब देते हुए कहा कि जिस अफसर के खिलाफ विप़क्ष आवाज उठा रहा है, उस अधिकारी के चलते ही सरगुजा नक्सल मुक्त हुआ। सरगुजा जिले में पहले चलना मुश्किल था। वहां के पांचों जिलों से नक्सलियों के पैर उखड़ गए। अब बस्तर की बारी है। 2003 के वक्त हमने इस राज्य में महिलाओं के खिलाफ राजनीतिक उत्पीड़न को भी देखा है….राजनांदगांव की प्रेम बाई मंडावी और नंदकुमार साय के बेटी का दल बदल का मामला राजनीतिक उत्पीड़न का ही रहा. आज महिला उत्पीड़न के मामले इसलिए सामने आ रहे हैं क्यूंकि महिलाओं में अपराध के विरुद्ध जागरूकता बढ़ी है….अब प्रताड़ना के बाद महिलाएं चुप नहीं रहती….अपराध दर्ज कराती हैं….
राज्य में महिलाओं का सम्मान बढ़ा है…
जिस अधिकारी के खिलाफ विपक्ष आवाज उठा रहा है….उस अधिकारियों की वजह से ही सरगुजा आज नक्सलवाद से मुक्त हुआ है….सरगुजा जिले में पहले दिन में चलना भी मुश्किल था….सरगुजा के 5 जिले नक्सल से मुक्त हुए हैं और अब बस्तर की बारी है….
मीना खलको मामले में दोषियों पर कार्रवाई होगी….जांच में वक़्त लगता है….
जनसंख्या की वजह से असंतुलन बिगड़ा है इसलिए अपराध का ग्राफ बढ़ा है….
एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की स्थापना की है….
घटना घट रही है ये नई बात नहीं है….पहले भी घटनाएं होती रही है….पहलर छत्तीसगढ़ को काला पानी कहा जाता था और आज महिलाएं बेखौफ निकल रही हैं.

**—

Leave a Reply