अदानी का कोयला परिवहन तीसरे दिन भी ग्रामसभा कांटारोली (सूरजपुर ) ने रोका

** अदानी का कोयला परिवहन तीसरे दिन भी ग्रामसभा कांटारोली (सूरजपुर ) ने रोका .
* ग्रामसभा ने कहानी कि हमने किसी को  बंधक नहीं बनाया है, झूठ बोल रहे है अदानी के अधिकारी .
* ग्राम सभा के निर्देश को मानना पडेगा अदानी को यह कानूनी बाध्यता है .
***
सूरजपुर: प्रेम नगनगर ब्लॉक के काटा रोली ग्राम सभा द्वारा आदानी कोल परिवहन तीसरे दिन भी पूरी तरह अवरुद्ध रखा गया.
अदानी कोल कम्पनी का कोयला परिवहन उत्खनन क्षेत्र से 55-60 किलोमीटर दूर पर्सा गांव से तारा काटारोली गांव के मार्ग से होते हुए श्रीनगर में कोयला को अनलोड किया जाता है .
लगातार  कोयला परिवहन में उपयोग होने वाले भारी वाहनों के चलने से गांव की पूरी सड़क तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है .
जिससे पूरे गांव में धूल डस्ट का मात्रा ज्यादा बड़ चुका था ,इस बात को लेकर काटारोली गांव की पूर्व की ग्राम सभा ने जन स्वास्थ्य समस्या को देखते हुए डस्ट प्रदूषण को नियंत्रित करने हेतु प्रस्ताव पारित कर आदानी कोल कंपनी सहित पूलिस, व प्रशासन को शीघ्र परिवहन मार्ग को दूरुस्त करने का निर्देश जारी किया,जिस पर आदानी प्रबंधक ने सड़क शीघ्र ठीक कराने का आश्वासन दिया
किन्तु कम्पनी द्वारा अपने किये वादे को पूरा नहीं करने की स्थिति में दिनांक 25-12-16 को पुनः काटारोली ग्राम सभा ने दिनांक 04-01-17के भीतर सड़क निर्माण कार्य शुरू करने का निर्देश जारी किया,तथा इसकी सूचना प्रेम नगर पूलिस, दण्डाधिकारी व कलेक्टर सूरजपूर,तथा कम्पनी को दे दिया गया था।
दिनांक 03-01-17 तक कोई प्रकार की सड़क निर्माण की पहल न होते देख,दिनांक  04-01-17 से आदानी कोल परिवहन को सड़क  उपयोग पर अनिश्चित काल के लिये प्रतिबंधित कर दिया,तथा ग्राम सभा के सभी सदस्यों ने एकत्र हो परिवहन को रोक दिया।
परिवहन रुकने के पश्चात् प्रशासनिक अधिकारियों व कम्पनी प्रबंधकों में व्यापक हड़कंप शुरू हो गया। कोयला से भरी हाईवा ट्रकों को कम्पनी प्रबंधन ने आधी रात्रि को चालाकी व छुपके से ट्रकों को निकालने का प्रयास भी किया,किन्तु ग्राम सभा के सदस्यों ने पूरी रात अलाव जलाकर कर सड़क पर पहरेदारी कर ट्रकों को वापस कर दिया।
दिनांक 05-01-17 को कम्पनी प्रबंधक  आनन- फानन में सड़क निर्माण कार्य शुरू करा दिया गया।
इसके पश्चात् कम्पनी प्रबंधन सहित  प्रशासनिक अधिकारियों ने गांव में जमावडा लगा, मेहदी लाल,नवल साय से बार बार चर्चा कर रुके परिवहन को चलाने में सहयोग मांगते रहे।
दूसरी ओर कम्पनी प्रबंधन द्वारा  सरगुजा आई जी को झूठा रिपोर्ट दिया गया कि कम्पनी के प्रबंधक को काटारोली गांव के लोगों ने उन्हें बंधक बना लिया है तथा सरकार से स्थानीय पुलिस प्रशासन पर कम्पनी को सहयोग नहीं मिलने का झूठा आरोप लगा,ज्यादा दबाव निर्माण करने का प्रयास किया गया।
दिनांक 06-01-17 रात्रि एक बजे गांव पर प्रशासनिक दबाव निर्माण करने के उद्देश्य से दल बल के साथ, SDM ,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, एस डी ओ पी व अन्य प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा लाॅएआॅडर की स्थिति को देखते हुए मेहदी लाल व नवल साय   कों दोनों पक्षों को सामन्जस बरतने का सूझाव दिया तथा रोड ओपन करने की सहमती मांगा।
मेहदी लाल ने एस डी एम सहित सभी अधिकारियों से जन हित में सहयोग करने की बात करते हुए कहा कि  कोल वाहन रोकने का निर्णय ग्राम सभा का है अत: सुबह सरपंच द्वारा ग्राम सभा आयोजित करा निर्णय लिया जाएगा। प्रशासन ने भी सुबह ग्रामसभा में अपने जिम्मेदारअधिकारी को उपस्थित रहने का मौखिक निर्देश जारी किया।
दोपहर दो बजे पुलिस प्रशासन ,नायब तहसीलदार,अदानी समूह के वरिष्ठ अधिकारी,व समस्त गांव के लोगों के साथ पुनः ग्राम बैठक किया गया, जिसमें अदानी के अधिकारियों द्वारा तीन  सप्ताह के भीतर सात से आठ किलोमीटर सड़क को पूरा कराने का लिखित रूप में वचन दिया।
साथी मेहदी लाल द्वारा नियामगीरी सुप्रीम कोर्ट की जजमेंट की छाया प्रति की काॅपी नायब तहसीलदार ,एस डी ओ पी प्रेमनगर को प्रदान करते हुए जजमेन्ट व पेसा कानून के भावनाओं का ख्याल रखते हुए सहयोग करने का अपील किया गया।
उक्त गांव बैठक में बड़ी संख्या में उपस्थित महिलाओं ने भी अपने अपने विचार व्यक्त किये ।
तत् पश्चात्  गांव की आम सहमति से जाम को स्थगित किया गया ।
अभी सूचना प्राप्त हो रहा कि काटारोली जाम स्थगित करने के पश्चात् ,उसी मार्ग में स्थित ब्रह्मपुर गांव के साथियों द्वरा  जाम प्रारंभ कर दिया गया है।
जिस कारण से अदानी का कोयला परिवहन आज तीसरे दिन भी पूरी तरह अवरुद्ध रहा है ।
**
गिरीश कुमार की रिपोर्ट 

cgbasketwp

Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account