दिल्ली शाहीन बाग के लगभग 5000 हज़ार लोग गृहमंत्री अमित शाह से मिलने उनके घर की ओर निकाल पड़े हैं

गृहमंत्री अमित शाह ने खूब चौड़े होकर मीडिया मे ये बयान दिया था कि जिस किसी को भी NRC से परेशानी है या कोई शंका है वो मुझसे मिलने आ जाए।

दिल्ली के शाहीन बाग मे लगभग 2 महीनों से NRC  के विरोध में प्रदर्शन करने वाले हजारों लोगों इसीलिए पैदल मार्च करते हुए अमित शाह से मिलने जा रहे हैं।

लोगों ने खत लिखकर दिल्ली पुलिस से इस मार्च कि इजाज़त मांगी थी लेकिन केंद्र सरकार के इशारों पर काम करने वाली पुलिस ने इसकी इजाज़त नहीं दी।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि अमित शाह ने ही कहा था जिसे NRC से समस्या है वो मुझसे मिलने आ जाए, हमें NRC  से समस्या है इसलिए हम उनसे मिलने जा रहे हैं। गृहमंत्री ने बुलाया है इसलिए हमारी सुरक्षा कि ज़िम्मेदारी भी सरकार की है।  

गृहमंत्री के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

वैसे तो ये बेहद शर्मनाक बात है कि दिल्ली में हजारों लोग एक विभाजनकारी कानून के खिलाफ़ प्रदर्शन कर रहे हैं, कानून को रद्द करने कि मांग कर रहे हैं और देश के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री लोगों से बात करने की बजाए उन्हे देशद्रोही और गद्दार कहते जा रहे हैं।

गृहमंत्री और प्रधानमंत्री को ख़ुद ही चलकर शाहीनबाग जाना चाहिए था, दुखद है कि हमारे शीर्ष नेतृत्व के पास इतनी समझ और ज़िम्मेदारी नहीं है।

अब शाहीनबाग के लोग ख़ुद जाकर अमित शाह से मिलना चाह रहे हैं तो बजाए इसके कि वे प्रदर्शनकारियों का स्वागत करें, हमारे गृहमंत्री महोदय ने अपने घर कि सुरक्षा बढ़वा ली है।

Anuj Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

माकपा नेत्री बृंदा करात 17-18-19 को रायपुर, कोरबा में

Sun Feb 16 , 2020
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email जनविरोधी बजट, नागरिकता और नागरिक अधिकारों पर […]

You May Like