सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दवा नही, बाहर से खरीदने दे राहे पर्ची

अव्यवस्था : मरीजों को भेजा जा रहा मेडिकल स्टोर , बढ़ी नाराजगी

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में माह भर से जेनरिक दवा तो दूर की बात सामान्य नहीं मिलने से मरीज परेशान हैं । उन्हें बाहर से दवा लेने के लिए पर्ची थम दी जाती है । मामले की जानकारी एसडीएम को दी गई है जिस पर उन्होंने जांचकर कार्रवाई करने की बात कही है । कोटा विकासखंड के अंतर्गत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की हालत में कोई सुधार नहीं है । अब तो हालत इस कदरखराब है कि प्राथमिक बेहद जरूरी दवा तक नहीं है । परेशान लोगों ने बताया कोटा में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य में दवा नहीं मिलता है अब सरकारी अस्पताल में दवा का सपना छोड़ दीजिए । उन्होंने बताया कि सरकारी दावे पर भरोसा कर ग्रामीण जन अस्पताल पहुंचते हैं परंतु उन्हें इसका लाभ नहीं मिल पाता है । कुछ गिनी – चुनी दवा को छोड़ अन्य आवश्यक दवाएं अस्पताल में उपलब्ध ही नहीं है । दूसरी ओर दिया जाता है । वे ओपीडी में दवा नहीं होने की बात कहते हैं । इन सबके कारण चिकित्सक की लिखी पर्ची प्राइवेट मेडिकल स्टोर पर ले जाने को मरीज विवश हो जा रहे हैं । वहीं दवा की पर्ची का भुगतान करने में मरीजके पसीने छूट जा रहे हैं ।

निजी अस्पताल जाने विवश

करगीकला निवासी महेश पांडेय ने बताया कि सीएचसी में सुविधा नहीं होने से लोग प्राइवेट में उपचार कराने के लिए विवश हो रहे हैं ।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दवा नहीं होने की शिकायत मिली है । मामले में जांच कर कार्रवाई की जाएगी ।

आनंद तिवारी एसडीएम , कोटा

नईदुनिया से…

Anuj Shrivastava

Next Post

बाल आश्रमगृह में बालक की मौत ,प्रबंधन सवालों के घेरे में

Thu Sep 19 , 2019
कोरबा बाल आश्रयगृह में रहकर पढाई कर रहे 11 साल के बच्चे की मौत से हड़कंपमच गया है । डायरिया […]