थानां प्रभारी पर युवक ने लगाया प्रताड़ना का आरोप…..किया वीडियो वायरल…..TI के आतंक से युवक हुआ परेशान

खासखबर राजनांदगांव एक बार फिर खाकी वर्दी पर एक युवक ने वीडियो जारी कर लगाए गंभीर आरोप। आपको बता दें ये मामला राजनांदगांव जिला के तहसील डोंगरगढ़ का है जिसे धर्मनगरी के नाम से भी  जाना जाता है । जहां पर उक्त तहसील में  तैनात थाना प्रभारी नासिर बाठी है जिन पर अछोली निवासी पुखराज सिंह साहू ने बीती रात एक वीडियो वायरल की है जिसमे उक्त युवक ने थाना प्रभारी पर भ्रष्टाचार , घुसखोरी, अवैध शराब तस्करों से पैसे लेकर सरंक्षण  देने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं। उक्त युवक मध्यम वर्ग के परिवार से है जो वर्तमान में रायपुर शहर में निवासरत है। युवक का कहना है कि चुनाव के समय कांग्रेस पार्टी का प्रचार प्रसार कर रहा था उसी दौरान विपक्ष की वाहवाही लूटने हेतु उक्त थाना प्रभारी ने फर्जी तथा झूठा केश बनाकर जेल भिजवा दिया था । जिस कारण से मुझे निजी कंपनी में अपनी नौकरी भी गवानी पढ़  गयी । फ़िलहाल मैं रायपुर शहर में रहता हूँ। और यहीं अपना जीवन बसर हेतु काम कर रहा हूँ। किंतु जब भी मैं अपने गृह ग्राम अछोली जाता हूँ तो सबन्धित थाना प्रभारी द्वारा मुझे बेवजह परेशान किया जाता है मुझे फर्जी केश में फंसाने हेतु आये दिन मेरे घर पर पुलिस भेजी जाती है । जिससे मैं मानसिक रूप से परेशान हूं । उक्त थाना प्रभारी की  कृत्य की शिकायत मैंने उच्च अधिकारियों तक भी की है । जिस पर अभी तक कोई कार्यवाही नही हुआ है। जिस वजह से मैं ये वीडियो वायरल कर रहा हूँ तथा आम जनता के साथ उच्च अधिकारी को भी पता चलना चाहिए कि थाना प्रभारी नासिर बाठी वर्दी के आड़ में क्या क्या करते हैं। इधर पूरे मामले में युवक ने शासन प्रशासन से उक्त अधिकारी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने हेतु गुहार लगाते हुए  कहा है कि  मुझे और मेरे परिवार को उक्त थाना द्वारा बेवजह परेशान न किया जाए ।इधर   अनुविभागीय उप पुलिस अधीक्षक मणि शंकर चंद्रा ने कहा कि मीडिया के माध्यम से हमें जानकारी मिली है हम नियमानुसार उक्त युवक द्वारा लगाए गए आरोपो की जांच करेंगे।और नियमानुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Anuj Shrivastava

Next Post

क्या भारतीय प्रशानिक सेवा के अफसर जगदीश सोनकर सुसाइड कर सकते है ?

Fri Sep 13 , 2019
रायपुर. बलरामपुर जिले के रामानुजगंज इलाके में अपनी पदस्थापना के दौरान एक मरीज के बिस्तर पर बूट रखकर बूट बाबू […]