पहली बार मीडिया के सामने आई शाहजहांपुर की छात्रा, बोलीः पूर्व BJP सांसद ने एक साल तक किया रेप..

पूर्व भाजपा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के लिए मुसीबतें बढ़ती जा रही है। चिन्मयानंद पर जान से मारने की धमकी का आरोप लगाने वाली शाहजहांपुर की छात्रा पहली बार मीडिया के सामने आई। प्रेस कॉन्फ्रेंस में छात्रा ने आरोप लगाया कि चिन्मयानंद ने एक साल तक रेप और शोषण किया। छात्रा ने दिल्ली में जीरो एफआईआर दर्ज करवाई है। छात्रा ने आरोप लगाया कि शाहजहांपुर पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही। 

छात्रा ने बताया कि उसने पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री पर बलात्कार का भी आरोप लगाते हुए कहा कि वह मामले की जांच कर रही एसआईटी को भी यह बात बता चुकी है। एसआईटी ने रविवार को करीब 11 घंटे तक उससे पूछताछ की थी। युवती के मुताबिक उसने जांच दल को बताया है कि स्वामी चिन्मयानंद ने उसके साथ बलात्कार और एक वर्ष तक उसका शारीरिक शोषण भी किया है। उसने दावा किया कि यह रिपोर्ट दिल्ली के लोधी रोड थाने में जीरो क्राइम नंबर पर दर्ज करके शाहजहांपुर भेज दी गई है, मगर स्थानीय पुलिस बलात्कार और शारीरिक शोषण की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है।

लड़की ने कहा कि जांच दल को सारी बातें बताने के बाद भी चिन्मयानंद को गिरफ्तार नहीं किया गया है। उसने बताया कि इससे पहले जब उसके पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ शारीरिक शोषण के आरोप में मुकदमे की तहरीर दी थी तब मुकदमा दर्ज करना तो दूर, जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने उसके पिता को धमकी देते हुए चिन्मयानंद के रसूख का हवाला दिया और बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने को कहा। छात्रा ने कहा कि उसके पास सारे साक्ष्य मौजूद हैं। वह कॉलेज हॉस्टल के जिस कमरे में रहती थी उसे सील कर दिया गया है। उसे मीडिया के सामने खोला जाए। सही समय आने पर साक्ष्य (वीडियो क्लिप) भी पेश किया जाएगा।

छात्रा ने कहा कि उसने अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए ही अपना वह वीडियो वायरल किया था, जिसमें उसने चिन्मयानंद से जान का खतरा बताया था। स्वामी चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह की ओर से दर्ज कराए गए पांच करोड़ रुपये की रंगदारी मांगे जाने के मामले में कथित पीड़िता ने कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए। चिन्मयानंद ने जो आरोप लगाया है वह फर्जी है। एक सवाल के जवाब में छात्रा ने बताया कि उसके साथ दिल्ली के होटल में देखा गया संजय सिंह नामक युवक उसका भाई है।

मालूम हो कि पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद के कॉलेज स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में एलएलएम की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल किया था, जिसमें उसने चिन्मयानंद पर आरोप लगाया था कि उसने उसकी तथा कई अन्य लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है। इसके साथ ही उसने अपने और अपने परिवार की जान का खतरा बताया था। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था।

सबरंग से लिया गया

Anuj Shrivastava

Next Post

CG : पत्रकार सुरक्षा कानून पर सरकार की ढिलाई के खिलाफ 28 Sep-2 Oct तक आन्दोलन

Wed Sep 11 , 2019
मीडिया  CG : पत्रकार सुरक्षा कानून पर सरकार की ढिलाई के खिलाफ पत्रकारों की हत्या और उन पर होने वाले हमलों […]