Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बिलासपुर  नईदुनिया

हाई कोर्ट ने माना है कि अनुसूचित क्षेत्र में जनजाति की भूमि कलेक्टर की अनुमति के बाद भी नहीं खरीदी जा सकती है इसके साथ मामले में भूमि की खरीदी बिक्री को शून्य कर दिया है । दंतेवाड़ा जिले के बड़े बचेली में गैर अनुसूचित जनजाति वर्ग के कुछ लोगों ने कलेक्टर से अनुमति प्राप्त कर अनुसूचित जनजाति वर्ग की भूमि को खरीदा ।

बस्तर कमिश्नर ने प्रावधान नहीं होने के कारण कलेक्टर द्वारा दी गई अनुमति को निरस्त कर दिया । इसके खिलाफ खरीदारों ने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की  इसमें कहा गया छत्तीसगढ़ भू राजस्व संहिता 1959 165 ( 6 ) , ( 1 ) के अनुसार कक्षत्र में कलेक्टर से अनुमति प्राप्त कर अनुसूचित जनजाति वर्ग की जमीन गैर आदिवासी भी खरीद सकते हैं । इसलिए खरीदी अवैध नहीं है। हाई कोर्ट ने सुनवाई उपरांत आदेश में कहा कि छत्तीसगढ़ भू राजस्व संहिता 1959 की धारा 165 ( 6 ) , ( 1 ) के अनुसार अनुसूचित क्षेत्र में कलेक्टर से अनुमति प्राप्त होने के बाद भी अनुसूचित जनजाति की जमीन गैर अनुसूचित जनजाति का व्यक्ति नहीं खरीद सकता है । कंट खरीदी बिक्री के लिए हुए व्यवहार का शून्य घोषित किया जा सकता है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.