बाल संप्रेशन ग्रह में मौत :किशोर की फांसी पर लटकी थी लाश , दीवार पर नहीं थे निशान , बाजू में ट्यूब लाइट को भी कुछ नहीं हुआ .

फिर उठा नया सवाल : आज होगा किशोरों का बयान दर्ज

संप्रेक्षण गृह कांड , कई सवालों के जवाब अनुत्तरित

किशोर की फांसी पर लटकी थी लाश , दीवार पर नहीं थे निशान , बाजू में ट्यूब लाइट को भी कुछ नहीं हुआ

जांच में फांसी पर लाश मिलना भी संदेहास्पद उठ रहे हैं सवाल

पत्रिका न्यूज़

बिलासपुर संप्रेक्षण गृह में किशोर की फांसी पर लाश मिलने के मामले में नया सवाल खड़ा हो गया है । जांच में जिस कमरे के रौशनदान से तकिये के कव्हर के फंदे पर किशोर की लाश मिली थी , वहां दीवार पर किसी प्रकार के निशान नहीं मिले हैं । साथ ही फांसी के फंदे से लटके शव के बाजू में लगी ट्यूबलाइट भी सही सलामत मिली है ।

चोरी के मामले में सरकंडा पुलिस द्वारा 19 जुलाई को केन्द्रीय जेल भेजे 17 वर्षीय किशोर को 26 जुलाई को रात 8 बजे कोर्ट के आदेश पर संप्रेक्षण गृह भेजा गया था । रात में किशोर को बाथरूम के बाजू में स्थित चेजिंग रूम में सोने के लिए भेजा गया था । दूसरे दिन सुबह किशोर की लाश रौशनदान से तकिए के कव्हर के फंदे पर फांसी पर मिली थी । सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मुअयाना किया था । साथ ही तहसीलदार , एसडीएम व जिला कोर्ट के न्यायाधीश ने भी मौके का मुआयना किया था । घटना के बाद कलेक्टर संजय अलंग ने दंडाधिकारी जांच का जिम्मा कार्यपालक दंडाधिकारी एआर टंडन को दिया था ।

जांच में नया खुलासा हुआ है । मृतक ने जिस कमरे में फांसी लगाई थी वहां दीवार पर खिड़की के उपर ट्यूबलाइट लगी है और उपर दीवार पर रौशन दान है । किशोर की लाश रौशनदार से फांसी के फंदे पर लटकती मिली थी । जबकि दीवार पर किसी प्रकार के निशान नहीं थे । साथ ही ट्यूबलाइट भी सही सलामत थी ।

आज होगा बयान

मंगलवार को समय सीमा की बैठक में जांच अधिकारी के व्यस्त होने के कारण संप्रेक्षण गृह में जांच नहीं हो पाई । बुधवार को जांच अधिकारी सुबह 11 से शाम 6 बजे तक दडाधिकारी जांच करेंगे । इस दौरान शेष किशोरों के बयान दर्ज होंगे ।

फांसी पर लटकते ही छटपटाता है व्यक्ति

पुलिस के अनुसार अब तक के फांसी लगाने के मामलों में यह बात सामने आई है कि फांसी के फंदे पर लटकते ही व्यक्ति छटपटाने लगता है और दाएं – बाएं हाथ पैरा मारता था । जब कि व्यक्ति की मौत नहीं हो जाती वह छटपटाता है , लेकिन संप्रेक्षण गृह में रौशन दान से । फंदे पर लटकी किशोर की लाश के आसपास किसी प्रकार के निशान नहीं मिले हैं और न ही ट्यूबलाइट को कोई क्षति हुई है ।

**

CG Basket

Next Post

रायगढ : बदइंतजामी स्कूल की ऐसी दुर्दशा की बच्चे एक हाथ में छतरी थामे है और दूसरे में किताब .

Wed Aug 7 , 2019
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email फोटो प्रतीकात्मक स्थानीय विधायक से शिकायत के […]

You May Like