जस्टिस अग्रवाल जांच आयोग : एड़समेटा कांड की न्यायिक जांच भोपाल में पूरी हुई .


अंतिम बहस मुठभेड़ की बहस में उलझे रहे वकील.

विनोद सिंह ,जगदलपुर नईदुनिया.

बीजापुर जिले के गंगालुर थाना क्षेत्र एड्समेटा में छह साल पहले हुए नक्सलियों बीच मुठभेड़ जस्टिस व्ही के अग्रवाल की अध्यक्षता बनी एकल सदस्यीय न्यायिक आयोग ने जांच पूरी ली है । 14 जुलाई मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल आयोग के समक्ष अंतिम बहस में वकीलों के घंटों बहस पांच घंटे चली. बहस में छग शासन और से अधिवक्ता दिनेश पानीग्राही पुलिस का पक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता संजय शुक्ला और सीआरपीएफ के अधिवक्ता गुप्ता ने जस्टिस व्हीके अग्रवाल के सामने मुठभेड़ को सही साबित करने और घटना के पीड़ित पक्षकारों की और महिला वकील शिखा पांडे और इशा खंडेलवाल ने मुठभेड़ को फर्जी साबित करने अपनी की दलीलें दी । जांच में अंतिम् बहस पूरी होने बाद आयोग द्वारा अब फाइनल रिपोर्ट तैयार की जाएगी हालांकि इस मामले में जस्टिस अग्रवाल ने 17 अगस्त को रायपुर में एक सुनवाई और रखी है लेकिन जरूरत पड़ने पर दोनों पक्ष के वकीलों को बुलाने बात कही है । अंतिम बहस में पुलिस वकील संजय शुक्ला ने बहस में हिस्सा लिया। अगले तीन माह में आयोग फाइनल रिपोर्ट सामने आ सकती हैं.

तैयार होगी रिपोर्ट .

न्यायिक जांच में दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं की अंतिम बहस दोनों पक्षों की आयोग के अध्यक्ष ने सुनी है । बहस पुरी हो गई है । अब आगे आयोग रिपोर्ट तैयार करेगा .

  • राजा विक्रम नायर , सचिव , एड़समेटा घटना विशेष न्यायिक जांच .

**

CG Basket

Next Post

सरकारी स्कूलों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों में हफ्ते में पांच दिन अंडा देने की मुख्यमंत्री से की मांग .. विभिन्न जनसंगठन .

Fri Jul 19 , 2019
जो अंडा खाना चाहता है उसे खाने दो… अंडे के समर्थन में उतरे जनसंगठन अपना मोर्चा .काम से.. रायपुर. छत्तीसगढ़ […]

You May Like