मृतक के परिजनों को दे नौकरी : मजदूर यूनियन

भिलाई । एनएसपीसीएल पावर प्लांट भिलाई – 3 पुरैना में काम करने वाले महेंद्र लहरे का मौत हो गया । मृतक महेन्द्र रोहणी ट्रांसपोर्ट ठेकेदार के अंदर काम करता था । जिसका मुख्य जिम्मेदार प्रबन्धक है । परिजनों ने बुधवार को पावर प्लांट मजदूर यूनियन को बताया कि 20 जून को रात्रि पाली में डियुटी गया था , सुबह जब प्लांट से घर आया तो उनका तबियत ठीक नहीं था और शाम 5 बजे से तबियत और ज्यादा खराब हुआ तो उनको रायपुर मेकाहारा ले जाया गया । जहां रात 9 बजे उसकी मृत्यु हो गई डाक्टरों के मुताबिक महेंद्र को ब्रेन हेमरेज होने का रिपोट दिया गया । मृतक हाउस किपींग डिपार्ट में काम करता था ( स्वीपर ) पावर प्लांट प्रबन्धक को यह जानकारी दी गई घरवालों को आस्वाशन दे दिया इनका अंतिम कार्यक्रम करिये परिवार के एक सदस्य को नौकरी देंगे लेकिन अभी तक प्रबन्धक परिवार जनों को आस्वासन पे रखकर टाल मटोल कर रहा , परिवार से सम्बंधित लोगों ने युनियन को आज जानकारी दी । हाउसकीपिंग में बहुत डस्ट होता है साथ ही मजदूरों का एक दिन का भी छुट्टी नहीं होता । हाजरी भी 12 से 15 दिन का मिलता है जिससे परिवार नहीं चल पाया । सुपरवाइजर ओर कुछ अधिकारी हर समय मजदूरों को काम से निकाल देने के धमकी देते रहते है जिससे मजदूर मानसिक रूप से तनाव में रहते हैं ।

जन आधारित पावर प्लांट मजदूर यूनियन मांग करता है कि महेंद्र के परिवार एक सदस्य को प्लांट में नौकरी दें ।