वरिष्ठ आदिवासी मंत्री कवासी लखमा को उधोगपति गंभीरता से नहीं ले रहे है.बिलासपुर में कदम कदम पर किया अपमान .मालिक से लेकर सुरक्षा गार्ड तक ने नही दी तवज्जो.

बिलासपुर . छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ आदिवासी नेता जो उध्योग और आबकारी मंत्री भी हैं ,जब बिलासपुर दौरे पर आये तो सरकारी बेठक के बाद जब वो औद्योगिक क्षेत्र सिरगिट्टी में निरीक्षण के लिये गये तो बड़ा अपमानजनक स्थिति का सामना करना पड़ा.जिला अधिकारियों ने भी उनके दौरे को गंभीरता से नहीं लिया .जब वे सिरगिट्टी स्थित इंडस्ट्रीयल एरिया का निरीक्षण करने पहुचे तभ एक फैक्ट्री के बाहर गेट पर मंत्री जी की कार का हूटर बजता रहा लेकिन गेट नहीं खोला गया .


वहीं कोलवाशरी की जांच करने पहुंचे तो वहां वाशरी न तो माले पहुंचा और न प्रबंधन से कोई व्यक्ति पहुंचा.लखमा ने बेहद नाराजी में अधिकारियों को कार्यवाही का आदेश दिया .

महेश्वरी कोल माइंस अनिल मुंदडा पैक्ट्री के मालिक को बुलाया जब वह नहीं पहुंचा तब मंत्री जी ने मैनेजर को तलब किया ,हद तो तब हुई जब मैनेजर भी नहीं पहुंचा . लखमा जी ने कोयला की क्वालिटी और डस्ट पर भी भारी आपत्ति प्रगट की .उध्योग विभाग के अधिकारियों को खरा खोटी सनाते रहने के बाद दस मिनट तक इंतजार भी किया किन्तु कोई भी व्यक्ति नहीं पहुंचा.

अधिकारियों से कहा फैक्ट्री की पूरे जमीन और कोयले की जांच करने का निर्देश दिए इसके अलावा सड़क का उपयोग किया जा रहा है उसकी भी जांच करने के लिए कहा गया है .

यही नहीं रुका सिलसिला बेरूखी का.

लखमा जी जब राजश्री गुटखा फेक्ट्री पहुंचे. तो और भी अद्भुत कर देने वाला नजारा था . मंत्री कारखाने का दरवाजा खटखटाते रहे लेकिन चौकीदार ने गेट ही नहीं खोला.कार्यकर्ता लोग जोर से चिल्लाकर बोले उद्योग मंत्री आए हैं दरवाजा खोलो , तब भी गेट को नहीं खोले . पुलिस के हल्ला करने और सिक्युरिटी गार्ड को काफी डांटने के बाद
गेट को खोला गया .

जिला प्रशासन भी जिम्मेदार हैं इस अपमानजनक व्यवहार के लिये .जब कोई दूसरा भारी मरकम मंत्री पहुचता हैं तो प्रशासन कारखाने के मालिक से लेकर पूरे अमले को पहले से ही चेता देता है ताकि मंत्री को किसी प्रकार की असुविधाजनक स्थिति का सामना न करना पड़े. लेकिन कवासी लखमा जैसे वरिष्ठ आदिवासी मंत्री को उध्योग पति से लेकर जिला प्रशासन तक गंभीरता से नहीं ले रहा है यह स्पष्ट दिखता है।


CG Basket

Next Post

बिलासपुर ,मुंगेली : नाबालिक लड़की से देहव्यापार और यौनिक हिंसा में लिप्त सफ़ेदपोश गिरोह की जाँच के लिए पीयूसीएल की टीम आई जी से मिली ,जाँच और कार्यवाही का दिया आश्वाशन .

Thu Jul 11 , 2019
बिलासपुर की एक नाबालिक दलित  बालिका  के साथ लगातार सफेदपोश गिरोह द्वारा  जबरन देह व्यापार और यौन हिंसा में धकेलने […]

You May Like