9वीं के छात्र ने सुसाइड नोट में लिखा… ‘पापा, सर को 10-20 थप्पड़ मारना’

9वीं के छात्र ने सुसाइड नोट में लिखा… ‘पापा, सर को 10-20 थप्पड़ मारना’

divyabhaskar network|Sep 18, 2014, 13:31PM IST

1 of 11

9वीं के छात्र ने सुसाइड नोट में लिखा... ‘पापा, सर को 10-20 थप्पड़ मारना’
फोटो: बेटे का शव देखकर बिलखती मां… ऊपर इनसेट में हर्ष और नीचे टीचर अर्जुन चौधरी
सूरत (गुजरात)। आरटीओ ऑफिस के पास रहने वाले 9वीं कक्षा के छात्र हर्ष ने सोमवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। 14 वर्षीय हर्ष ने यह कदम स्कूल के पीटी टीचर की वजह से उठाया था। इसका खुलासा सुसाइड नोट से हुआ। हर्ष ने अपने स्कूल के स्पोर्ट्स टीचर के बारे में लिखा था कि किस तरह वह उसे रोजाना मारते-पीटते और परेशान करते थे।
सुसाइड नोट में यह भी लिखा था… ‘पापा, मेरी आखिरी इच्छा है कि आप पीटी वाले अर्जुन सर के गाल पर 10-20 थप्पड़ मारना’। इतना ही नहीं, हर्ष ने जिस पेन से सुसाइड नोट लिखा, उसी पेन से अपने हाथ पर टीचर का नाम (अर्जुन) भी लिख रखा था। पुलिस ने टीचर को गिरफ्तार कर लिया है। आज उसे कोर्ट में पेशकर रिमांड की मांग की जाएगी।
क्या है मामला:
कुशल वाटिका सोसायटी में रहने वाले जीतूभाई का 14 वर्षीय पुत्र हर्ष अडाजण पुलिस थाने के सामने स्थित एलएनबी स्कूल में 9वीं कक्षा का छात्र था। सोमवार को दोपहर साढ़े बारह बजे हर्ष घर आया। ड्रेस बदलने व खाना खाने के बाद अपने बेडरूम में चला गया था। घर में इस समय हर्ष की मां चेतनाबेन थीं। उन्होंने यही सोचा कि वह बेडरूम में अपना होमवर्क कर रहा होगा। इसलिए ध्यान नहीं दिया, लेकिन 3 बजे तक जब हर्ष कमरे से बाहर नहीं आया तो चेतना ने उसे आवाज लगाई। काफी देर तक दरवाजा न खोलने के बाद पति को सूचना दी और पड़ोसियों को बुलाया।

दरवाजा तोड़ा गया तो अंदर हर्ष पंखे से लटका हुआ था। अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शाम को हर्ष के कमरे की जांच की गई तो कम्प्यूटर के पास उसके हाथों लिखा एक सुसाइड नोट मिला।

परिवार ने की आंखें दान:
मंगलवार को हर्ष के माता-पिता ने उसकी आंखें सिविल हॉस्पिटल को दान कर दीं।
टीचर गिरफ्तार, सेक्स्युएल हैरेसमेन्ट की भी होगी जांच:
पुलिस ने टीचर अर्जुन चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस द्वारा अर्जुन की गिरफ्तारी के बाद आज उसे आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। इसके साथ ही ही हर्ष पर सेक्स्युअल हैरेस्मेन्ट हुआ था या नहीं, इस दिशा में भी जांच की जा रही है।
बुधवार को अंतिम यात्रा के साथ निकली रैली:
हर्ष का बुधवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम संस्कार के बाद शहर में आरोपी शिक्षक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग के साथ एक विशाल रैली भी निकाली गई।

Leave a Reply

You may have missed