दंतेवाड़ा . छत्तीसगढ़ में शायद यह पहली बार होने जा रहा है जब किसी गांव में ग्राम सभा का आयोजन किया जा रहा है जिसमें प्रस्ताव पास किया जाने की योजना है . पांचवीं अनुसूची क्षेत्र में ग्राम सभा को अधिकार है कि वह अपने गांव की सुरक्षा और  समुचित व्यवस्था कर सके.आज बुधवार को आयोजित ग्राम सभा में मानवाधिकार कार्यकर्ता सोनी सोरी और प्रदेश के अन्य स्थान से सामाजिक कार्यकर्ता  पहुंच रहे है.बड़ी संख्या में ग्रामीण भाग लेने पहुंच रहे है

.सोनी सोरी कल कलेक्टर दंतेवाड़ा से मिलकर स्थित से अवगत कराया और कहा कि एसी खबर हैं कि पुलिस आसपास के ग्रामीणों को धमकाया जा रहा है और आने से रोका जा रहा हैं .सोनी ने यह भी कहा कि वे गोंडेरास  ग ईं है .उन्हें ग्रामीणों ने बताया है कि उनके साथ मारपीट की गई है .और एसी मारपीट बार बार की जाती है.यदि मुठभेड़ सही थी तो ग्रामीणों को क्यों मारा गया. इसी लिये ग्राम ने तय किया है कि पांचवीं अनुसूची क्षेत्र में ग्राम सभा को विशेष अधिकार है कि वे अपना प्रशासन और रोज मर्रा के निर्णय ले सकें.इसी लिये उन्होंने ग्राम सभा बुलाई है जिसमें वह प्रस्ताव पास करके मानवाधिकार आयोग तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ,राज्यपाल तथा राष्ट्रपति को शिकायत करेंगे.