मजदूर नेता योगेश सौनी पर जानलेवा हमले करने वालों को कौन नहीं जानता.बंदूक की गोली से विचार नहीं मरता .जमुमो .



भिलाई CITU ठेका युनियन के जुझारु पदाधिकारी कॉमरेड योगेश सोनी जी पर आज सुबह चाकु से जानलेवा हमला किया गया है। कॉमरेड योगेश सोनी ठेकेदारो द्वारा अधिकारियों के साथ मिलिभगत कर ठेका मजदूर के साथ किये जा रहे शोषण के खिलाफ लगातार शांतिपूर्ण संवैधानिक जमीनी संघर्ष को जारी रखे हुए है। ऐसे में उनपर यह जानलेवा हमला करवाने वाले कौन लोग है यह किसी से छुपा नही है। ठेका मजदूर वर्ग और उसके नेतृत्व पर शोषक ठेकेदारो, लुटेरे उद्योपतियो, दलाल नेताओ और भ्रषट नौकरशाहो के खतरनाक अनैतिक गठजोड़ द्वारा किया गया यह पहला और अंतिम हमला नही है। मजदूर वर्ग जब भी अपने संवैधानिक अधिकारो के लिए लामबंद होकर जुझारु आंदोलन में कुद पड़ता है तब-तब शोषको का गठजोड़ मजदूर आंदोलन को तोड़ने उनके उपर और उनके न बिकने वाले ईमानदार नेतृत्व पर ऐसे खतरनाक हमले करता आया है पर आंदोलन को कभी रोक नही पाया है।

हमारा स्पष्ट मानना है की संविधान और कानुन के राज में संविधान और कानुन को लागु करने की शांतिपूर्ण तरिके से मांग करने वालो के ऊपर हमला करना सिधे-सिधे संविधान और कानुन पर हमला करना है। पर अफसोस है की जिनके ऊपर संविधान और कानुन को लागु करने, रक्षा करने की जिम्मेदारी है वही लोग और संस्थाए ऐसे तत्वो की रक्षक बनकर खड़ी नजर आती है।

शोषण, दमन के ऐसे खतरनाक समय में मजदूर वर्ग और उसके नेतृत्व को भी समझना होगा की मात्र आर्थिक मांगो, इन मांगो में से चंद मांगो को हांसिल कर लेने से शोषण की जंजीरो में जकड़े मजदूरो का कोई बहुत ज्यादा भला नही होने वाला है, हा थोड़ी जंजीरे जरुर ढिली महसुस हो सकती है पर गुलामी से संपूर्ण मुक्ति कदापी नही हो सकती।

मेंहनतकश वर्ग और उसकै नेतृत्व को हर हाल में शोषण और गुलामी से मुक्ति के लिए वर्तमान प्रतिक्रियावादी-पूंजीवादी राजनीतिक व्यवस्था और शोषण व असमानत पर खड़ी आर्थिक-सामाजिक व्यवस्था को बदलने के क्रांतिकारी कार्यो को प्राथमिकता के साथ हाथ में लेकर उस पर अविलंब अमल करना होगा, ऐसे किये बिना मेंहनतकश वर्ग के जीवन में छाया अंधेरा कभी दूर नही होगा।

जन मुक्ति मोर्चा, छत्तीसगड़ शोषक-लुटेरे वर्ग द्वारा CITU के जुझारु कॉमरेड योगेश सोनी जी के ऊपर किये गये कायरना हमले की घोर निंदा करती है व छत्तीसगढ़ की शोषित-पिड़ित मेहनतकश जनता, छात्र-बेरोजगार नौजवानो, बुद्धिजीवीयो, कलाकारो व तमाम प्रगतिशील ताकतो से आह्वान करती है की छत्तीसगढ़ की धरती से ऐसे रक्तपिपासु आदमखोरो को क्रांतिकारी सबक सिखाए।


इंकलाब जिंदाबाद
हत्यारा व्यवस्था मुर्दाबाद
लाल जोहार
शहीदो को लाल सलाम

      केन्द्रीय समिति ,जन मुक्ति मोर्चा.

CG Basket

Next Post

मोदी जीते तो काशी हार जायेगी ..काशीनाथ सिंह

Thu May 9 , 2019
Share on Facebook Tweet it Share on Google Pin it Share it Email अ मशहूर साहित्यकार काशीनाथ सिंह काशी से […]

You May Like