छत्तीसगढ़ में जगह मना मजदूरों के संघर्ष और विजय का प्रतीक मई दिवस .

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आज छत्तीसगढ़ में जगह जगह मजदूरों के संघर्ष और जीत का प्रतीक म ई दिवस मनाया गया.भिलाई , बिलासपुर , रायपुर ,दुर्ग ,रायगढ ,कोरबा ,धमतरी ,बांकी मोगरा से लेकर दक्षिण बस्तर के विभिन्न जिलों में मजदूरों ,कर्मचारियों ने रैली और आमसभा की .

भिलाई

1 मई मजदूर दिवस को लेकर सैकडों मजदूर सुबह 8 बजे जामुल से निकलकर घनसीदास नगर होते हुए शहीद नियोगी चौक पहुचा वहा सिमलेक्स कास्टिंग के संघर्ष रत मजदूरो के समर्थन में मजदूर एकता का गगन भेदी नारों से पूरा चौक गूँजने लगा नारों के माध्यम से सिम्पलेक्स प्रबन्धन को चेतावनी दिया कि मजदूरो के 3 माह का बकाया वेतन तत्काल करें गेट का ताला खोले ताकि मजदूर पूण: काम पर जाएंगे,इसके बाद जुलूस मुर्गा चौक के लिए आगे बढ़ा पावर हाउस ओवरब्रिज होकर मुर्गा चौक में नारों के साथ पर्चा वितरण किया गया ,14 कर्मचारी जो बी एस पी विस्फोट में मृत हुए थे उनका जांच टीम का रिपोट पर्चा वितरण किया गया .

आम सभा का शरुवात हुआ जिसमें नियोगी के आंदोलन ओर 1 के मजदूर आंदोलन को याद किया गया,सभी वक्ताओं ने कहा कि शिकागो के मजदूरो ने संघर्ष करके 8 घण्टे का कार्य अवधि स्थापित किये लेकिन आज उद्घयोगपतियो द्वारा 12 घन्टा काम कराया जाता है उसमें भी न्यूनतम वेतन नही मिलता,भिलाई स्पात संयंत्र में मजदूरों को कीड़े मकोड़े की तरह समझा जाता है,आज पूरे देश भर में आजादी के बाद न्यूनतम वेतन लागू नही हुआ,सरकार अपने द्वारा बनाए गए श्रम कानून को उद्घयोगपतियो से आज तक पालन नही करा पाए चाहे सरकार किसी भी सत्ताधारी पार्टी का रहा हो किसी ने इस पर ध्यान नही दिया बल्कि मजदूर श्रम कानून पालन कराने आंदोलन करता है तो मजदूरों को जेल,लाठी,और काम से छटनी मिलता है,.

वक्ताओं ने कहा कि आज सभी सरकारे मजदूर विरोधी हो गए है,जिस तरह मजदूर नेत्री सुधाभरद्वाज के यू ए पी ए लगाकर जेल के अंदर डाल दिया और वही माले बम ब्लास्ट के अपराधी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को जमानत मिल जाता है our उसे लोकसभा में प्रत्यासी बना दिया जाता है तो आज हर मजदूरों को लगने लगा है सरकारे कानून को रौंदते है ,मेहनतकशो को झूठे आरोप लगाकर काम से छटनी कर दिया जाता है ,आज कल एंन एस पी सी एल पावर प्लांट में 12 से मात्र 15 हाजरी दिया जाता है बाकी हाजरी का पैसा ठेकेदार और प्रबन्धन मिल कर डकार लेते है ।सवाल खड़ा होता है कि आखिर कर सरकार किस लिए बनता है?सरकार इसीलिए बनता है कि जहाँ कानून का पालन नही किया जा रहा है उसे कड़ाई से पालन कराए लेकिन ऐसा नही हो रहा है,आज पूरे ओउद्योगिक क्षेत्र में 12 घण्टे का डिवटी होता है और उसका वेतन मात्र 280 मिलता कुछ बोलो तो काम से निकाल दिया जाता है,सभी वक्ताओं ने एक मांग जोर से उठाया कि जो भी कम्पनी में श्रम कानून का पालन नही हो रहा है उन सब उद्योपतियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए,ठेकेदारी प्रथा बंद किया जाए

बिलासपुर

शहर में गूंजा मजदूर दिवस पर हक के लिए संघर्ष करने का नारा निकाली गई रैलियां , आम सभाओं में लिया एकजुटता का संकल्प

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस पर ट्रेड यूनियन कौंसिल समेत विभिन्न संगठनों ने बुधवार को रैली निकाली ।

ट्रेड युनियन कौंसिल से संबद्ध दो दर्जन से अधिक संगठनों ने बुधवार को राघवेंद्र राव सभा भवन से रैली शुरू की । यह रैली सिटी कोतवाली चौक तक गई वहां पर देवरीखुर्द से निकाली गई मजदूरों की रैली समाहित होकर फिर राघवेंद्र रावं सभा भवन पहुंचकर आमसभा में परिवर्तित हो गई ।

ट्रेड यूनियन कौंसिल और विभिन्न संगठनों ने बुधवार को रैली निकलकर, श्रमिकों के हक के लिए सतत संघर्ष करने का संकल्प लिया । मजदूरों को बुनियादी सुविधाएं नहीं मिलने का स्मरण दिलाया गया । श्रम कानूनों में मजदूरों के अधिकार की जानकारी देने शिविर लगाए गए । आमसभाओं और ज्ञापन के माध्यम से मजदूरों के अधिकारों की आवाज बुलंद की गई
आमसभा में वक्ताओं ने देश में महंगाई , भ्रष्टाचार , खेतिहर मजदूरों , किसानों की समस्याओं पर प्रकाश डाला ।

इसके साथ ही साम्प्रदायिकता रोकने व सामाजिक सौहार्द स्थापित करने , श्रम कानूनों से खिलवाड़ रोकने सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण नहीं करने पर जोर दिया । सभा को टीयूसी के अध्यक्ष पीआर यादव , महासचिव रोजश शर्मा , नंद कश्यप , पवन शर्मा , जीआर चंद्रा , किशोर शर्मा , शेखर मोने , नारायण चौधरी याणा चौधरी मनोज मिरी , कालेश्वर प्रसाद , महेश श्रीवास , आरके मिश्रा , अनुपम उपाध्याय , एचके मेघमाला , उमा मिश्रा , संगीता झा , सुखऊ निषाद आदि ने संबोधित किया ।

रेलवे परिक्षेत्र

रेलवे माल गोदामों में श्रमिकों को मूलभूत सुविधाएं मिले.

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी रेलवे कामगार मजदूर यूनियन नया मालगोदाम रेलवे द्वारा रेलमंत्री पियूष गोयल के नाम पर एक मांग पत्र महाप्रबंधक दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे को सौंपा गया।

एन एफ आईटीयू , इमलीपारा .

संघर्ष की शुरुआत करेगी
मई दिवस पर इमलीपारा मुस्लिम सराय में अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस पर एनएफआईटीयू के पदाधिकारियों और सदस्यों ने प्रदेश में जल जंगल जमीन एवं मौलिक अधिकारों को प्राप्त करने के लिए सतत संघर्ष करने का संकल्प लिया ।

देवरी तख्तपुर में श्रमिक दिवस मनाया गया

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा मई दिवस पर तखतपुर के ग्राम देवरी में श्रमिक दिवस का आयोजन किया गया ।

एस ई सी एल मुख्यालय में मना खनिक दिवस श्रमिक समानित.

एसईसीएल बसंत विहार मे स्थित रविन्द्र भवन के टैगोर हाल में 1मई खनिक दिवस का आयोजन किया गया।

,***

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

CG Basket

Next Post

राहुल गांधी ने क्यों कहा कि आदिवासियों को गोली मारने का कानून ला रहे है मोदी.तथ्य क्या कहते है.

Thu May 2 , 2019
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins. तामेश्वर कुमार की फेसबुक वाल से आभार सहित जिस इंडियन फॉरेस्ट एक्ट 1927 कानून की बात वो कर रहे हैं, उसमें व्यापक बदलाव करने के लिए सचमुच सरकार ने कदम उठाया है और नए प्रावधानों के तहत वन अधिकारियों को गोली […]

Breaking News