पोरियाहूर गाँव में मासूम बच्चें कुपोषण के शिकार । ज़िंदा रहने के लिए मासूम जिंदगियां रोजाना मौत से करती है एक-एक हाथ । : वीडियो रिपोर्ट ,राजेश हालदार .

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

21.04.2019

राजेशहालदार  की वीडियो  रिपोर्ट भूमकाल के लिये.

बस्तर । कांकेर जिले के पखांजुर मुख्यालय से 22 किलोमीटर दूर स्थित पोरियाहूर गाँव में मासूम बच्चें कुपोषण के शिकार । ज़िंदा रहने के लिए मासूम जिंदगियां रोजाना मौत से करती है एक-एक हाथ । 
यहां सभी शासकीय योजनाएं कागजों में सिमट कर रह गयी है । यहां न तो मोदी जी का शौचालय है और न ही उज्ज्वला योजना का अस्तित्व । लोग जंगल में शौच करते हैं और चूल्हे में बना खाना खाते हैं । पीने के लिए पूरे गांव के लिए एक ही हेण्डपम्प है , उसके बिगड़ जाने पर इन्हें तीन किमी दूर पहाड़ों पर बने झरिया तक जाना पड़ता है ।

बस्तर के युवा पत्रकार राजेश हालद्वार की मार्मिक रिपोर्ट के लिए वीडियो में क्लिक करें

राजेश हालद्वार पिछले दस वर्षों से बस्तर के ग्रामीणों के जीवन संघर्ष से जुड़े मुद्दे पूरी संवेदना के साथ मीडिया के माध्यम व्यवस्था के सामने लाते रहें हैं

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

CG Basket

Next Post

रेला कलेक्टिव : बोलो यह चौकीदार ,अदानी का वफ़ादार ,अंबानी का वफ़ादार ...

Sun Apr 21 , 2019
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.रेला कलेक्टिव राष्ट्रीय स्तर पर सांस्कृतिक कर्मियो का एक ग्रुप है जो भारत के 28 राज्यों के रंग कर्मियो .गीतकारोंं कलाकारों का एक समूह है जो लगातार प्रतिरोध की सांस्कृतिक दखल का काम कर रहे है .अभी पिछले दिन यह गीत रिकार्ड […]

You May Like

Breaking News