जंगल में ‘स्वर्ण मृग’

देखो,
इतिहास कैसे दोहराता है
खुद को

सीता ने जंगल में
फिर देख लिया है ‘स्वर्ण मृग’
राम ने आखेट का आदेश दे दिया है
लक्ष्मण निकाल पड़े हैं
हथियार लेकर।
फिर कटेगी नाक
शूर्पनाखाओं की,
शंबूकों के सिर
फिर कलम होंगे,
मारे जाएंगे जंगली सभी।

इस बार
लक्ष्मण पूजे जाएंगे
राष्ट्रभक्त सैनिक के रूप में
सीता विकास लाने वाली कम्पनी,
और राम
राष्ट्र के रूप में।

एक बार फिर
मैं देशद्रोही कहलाऊंगी
इसे लिखने के लिए।

सीमा आज़ाद 
7-3-2019